अमर भारती:  ईवीएम में गड़बड़ी की आशंका के चलते  कांग्रेस को शक  यहां मशीनें गृहमंत्री भूपेंद्र सिंह के दीपाली होटल में लाकर रखी गई थीं। और यहां से उन में गड़बड़ी करते हुए गुपचुप ढंग से स्ट्रांग रूम में जमा कराया जा रहा था। लेकिन कांग्रेसियों की सजगता के चलते उनका यह प्रयास विफल कर दिया गया. घटना की सूचना पूरे शहर में आग की तरह फैल गई और सभी पार्टियां सचेत हो गयीं। वहीं कांग्रेस और आम आदमी पार्टी ने मशीनों की निगरानी के लिए तैयार हो गए।

भोपाल की पुरानी जेल में बने स्ट्रांग रूम के बाहर कांग्रेस के कार्यकर्ता दिन रात पहरेदारी कर रहे हैं। कांग्रेसियों को आशंका है। कि ईवीएम मशीनों से छेड़छाड़ हो सकती है। इसलिए शिफ्ट लगाकर कांग्रेस और आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ता पहरेदारी कर रहे हैं। बीजेपी जीत के लिए कोई भी हथकंडे अपना सकती है।

शुक्रवार सुबह से कांग्रेसियों ने पुरानी जेल के बाहर लगी सीसीटीवी के बंद होने के चलते हंगामा किया। वहीं आम आदमी पार्टी के प्रत्याशी और कार्यकर्ता भी रात को पुरानी जेल के बाहर कुर्सी जमाकर बैठ गए। रात को एलईडी पर सुबह की रिकार्डिंग न चलने का आरोप लगाते हुए कांग्रेस ने जमकर नारेबाजी की मध्य प्रदेश में कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ और अरुण यादव ने ट्वीट कर कार्यकर्ताओं से 11 दिसंबर यानी मतगणना पूरी होने तक स्ट्रांग रूम पर कड़ी नजर रखने को कहा है।

कमलनाथ ने शुक्रवार शाम को ट्वीट कर कहा कि कांग्रेस की सरकार बननी तय है। ईवीएम की सुरक्षा को लेकर कांग्रेस और आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ताओं को भोपाल डीआईजी धर्मेंद्र चौधरी ने भरोसा दिलाया कि स्ट्रांग रूम पर कड़ी निगरानी रखी जा रही है। डीआईजी चौधरी ने बताया कि ईवीएम को थ्री-लेयर सुरक्षा कवच दिया गया है। जहां परिंदा भी पर नही मार सकता और गेट से अंदर जाने के लिए अच्छी तरह जांच की जाती है।

यदि आप पत्रकारिता क्षेत्र में रूचि रखते है तो जुड़िए हमारे मीडिया इंस्टीट्यूट से:- 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here