अमर भारती :  पांच राज्यों में विधानसभा चुनावों के बीच देश की विदेश मंत्री और बीजेपी की बड़ी नेता सुषमा स्वराज ने 2019 के चुनावों को लेकर बड़ा एलान किया है। ये ऐलान उन्होंने मंगलवार को इंदौर में पार्टी के कार्यकर्ताओं के बीच किया। हालंकि उन्होंने अंतिम फैसला पार्टी पर छोड़ा है, अगर पार्टी कुछ कहती है तो वो इस पर विचार करेंगी। हालंकि सुषमा स्वराज के इस बयान पर अभी पार्टी की ओर से कोई आधिकारिक बयान नहीं आया है।

आपको बता दें कि सुषमा स्वराज मध्य प्रदेश के विदिशा से सांसद हैं, उन्होंने खुद मध्य प्रदेश के इंदौर में चुनावी गहमागहमी के बीच चुनाव नहीं लड़ने का एलान किया। सुषमा बीजेपी की स्टार प्रचारकों में शामिल हैं। 1977 से 1982 के बीच हरियाणा विधानसभा की सदस्य भी रही हैं।

इस दौरान उन्होंने 25 साल की उम्र में अंबाला कैंटोनमेंट की सीट पर जीत हासिल की थी जिसके बाद एक बार फिर वो 1987 से 1990 के बीच विधानसभा पहुंची। सुषमा बीजेपी दिवंगत नेता अटल बिहारी वाजपेयी की तीनों सरकारों में मंत्री और दिल्ली की मुख्यमंत्री का पद भी संभाल चुकी हैं। 1999 में उन्होंने कर्नाटक के बेल्लारी से सोनिया गांधी के खिलाफ चुनाव लड़ा था, हालांकि, इसमें उन्हें हार का सामना करना पड़ा था।

वह काफी लंबे समय से अस्वस्थ हैं। अभी दो साल पहले ही उनका किडनी ट्रांसप्लांट किया गया था, अटकले ये भी लगाई जा रही है कि स्वास्थ्य कारणों से भी उन्होंने चुनाव नहीं लड़ने का फैसला किया हो।

यदि आप भी मीडिया क्षेत्र से जुड़ना चाहते है तो, जुड़िए हमारे मीडिया इंस्टीट्यूट से:-