अमर भारती : पत्नी ऐश्वर्या को तलाक देने की अर्जी के बाद चर्चा में आये लालू यादव के बेटे तेज प्रताप गुरुवार को वृंदावन के चैतन्य विहार में नजर आये। हालांकि, मीडिया को देखते ही वह अपने साथियों के साथ गाड़ी में बैठकर निकल गए।

उन्होंने पटना के एक न्यूज चैनल से फोन पर हुई बातचीत में कहा : अगर परिवार ने तलाक लेने की मांग पर उनका समर्थन नहीं किया, तो वह घर नहीं लौटेंगे। तेज प्रताप ने अपने छोटे भाई तेजस्वी यादव को जन्मदिन की बधाई दी, लेकिन कहा कि वह दिल्ली में होने वाले समारोह में शामिल नहीं हो पायेंगे। तेजस्वी दिल्ली में अपनी बहनों से मिलने के लिए गये हुए हैं।

लालू से रांची में मिलने के बाद गायब हुए थे तेज प्रताप

पत्नी ऐश्वर्या से तलाक की अर्जी देने के बाद तेज प्रताप अपने पिता लालू यादव से मिलने रांची के रिम्स में गये थे। बताया जा रहा है कि लालू ने उन्हें ऐश्वर्या के साथ सामंजस्य बनाने की सलाह दी थी। परिवार के अन्य लोग भी उन्हें यही समझा रहे थे। इससे नाराज होकर दीपावली के पहले तेज प्रताप सुरक्षा कर्मियों को चकमा देकर गायब हो गये थे।

समझौते की कोई गुंजाइश नहीं

तेज प्रताप ने कहा, ‘हमारे मतभेद में अब समझौते की कोई गुंजाइश नहीं है। मैंने अपने माता-पिता को शादी होने से पहले इस बारे में बताया था। लेकिन उस वक्त मेरी किसी ने नहीं सुनी और अब भी मेरी कोई नहीं सुन रहा है। जब तक वे मुझसे सहमत नहीं होते हैं तब तक मैं घर कैसे वापस आ सकता हूं।’ बिहार सरकार में मंत्री रह चुके तेज प्रताप ने उनके वैवाहिक विवाद में नजदीकी संबंधियों, खास कर ससुराल के लोगों के जरिए अदा की गई भूमिका पर भी नाराजगी जाहिर की।

यदि आप भी मीडिया क्षेत्र से जुड़ना चाहते है तो, जुड़िए हमारे मीडिया इंस्टीट्यूट से:-