अमर भारती : जकार्ता से पंगकल पिनांग के लिए जा रही लॉयन एयर फ्लाइट टेक ऑफ करने के 13 मिनट बाद गायब हो गई। इंडोनेशिया की आपदा राहत एजेंसी के प्रमुख सुतोपो पुर्वो के मुताबिक, इसमें 189 लोग सवार थे। इनमें तीन बच्चों समेत 181 यात्री, दो पायलट और छह अन्य क्रू मेंबर्स थे। विमान, संपर्क टूटने वाली जगह से करीब दो नॉटिकल मील (3.7 किलोमीटर) दूर कारावांग की खाड़ी में क्रैश हुआ। इस विमान में इंडोनेशिया के वित्त मंत्रालय के 20 अधिकारी भी सवार थे।

रिपोर्ट्स के मुताबिक विमान ने जकार्ता एयरपोर्ट से उड़ान भरी थी। विमान सुमात्रा के पिंगकल पिनॉन्ग जा रहा था। टेक ऑफ के 13 मिनट बाद ही विमान का संपर्क टूट गया था। बताया जा रहा है कि संपर्क टूटने से पहले पायलट ने प्लेन की वापसी का सिग्नल दिया था। सर्च ऑपरेशन के अधिकारियों ने बताया कि जावा समुद्र तट के पास विमान के टुकड़े नजर आए हैं।

इंडोनेशिया के आपदा प्रबंधन बोर्ड के प्रमुख सुतोपो पुरवो नुग्रोहो ने ट्वीट कर कहा, ‘कारावांग के समुद्र में दुर्घटनाग्रस्त हुए लॉयन एयर जेटी610 विमान के कई टुकड़े बरामद किए गए।’ बीबीसी के मुताबिक, लॉयन एयर विमान ने सुबह 6.20 बजे जकार्ता से उड़ान भरी थी और यह लगभग एक घंटे में पंगकल पिनांग पहुंचने वाला था लेकिन विमान का सुबह 6.33 बजे संपर्क टूट गया।

बता दें कि 2013 में भी यहां से ही एक बोइंग-737 विमान क्रैश हुआ था। इस हादसे में करीब 108 लोग मारे गए थे।

यदि आप भी पत्रकारिता क्षेत्र में रूचि रखते हैतो जुड़िए हमारे मीडिया इंस्टीट्यूट से :-

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here