अमर भारती : सीबीआई डायरेक्टर आलोक वर्मा को छुट्टी पर भेजे जाने के खिलाफ शुक्रवार को कांग्रेस ने देशभर के सीबीआई दफ्तरों पर हल्ला बोला। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने दिल्ली में सीबीआई हेडक्वॉर्टर पर प्रदर्शन किया और गिरफ्तारी दी। राहुल गांधी की अगुवाई में कांग्रेस का ये मार्च दयाल सिंह कॉलेज से शुरू हुआ और सीबीआई दफ्तर तक चला।

राहुल गांधी ने लोधी रोड पुलिस स्टेशन में अपनी गिरफ्तारी दी। इस प्रदर्शन में राहुल गांधी के साथ विपक्षी पार्टियों के कई नेता मौजूद रहे, जिसमें शरद यादव, डी. राजा, तृणमूल कांग्रेस के नेता भी शामिल रहे।

इस दौरान राहुल गांधी ने पीएम मोदी पर वार किया। उन्होंने कहा कि पीएम भाग सकते हैं, वे छिप सकते हैं, लेकिन आखिरी में सच सामने आ जाएगा। सीबीआई निदेशक को हटाने से मदद नहीं मिलेगी। पीएम ने सीबीआइ निदेशक के खिलाफ कार्रवाई की। यह सीमा से बाहर है।

 ‘चौकीदार को चोरी नहीं करने देगी कांग्रेस’

राहुल गांधी ने कहा कि राफेल सौदे की जांच से बचने के लिए रातोंरात सीबीआई डायरेक्टर को हटाया गया है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ‘चौकीदार’ को ‘चोरी’ नहीं करने देगी। कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा, ‘हिंदुस्तान के हर इंस्टिट्यूशन पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आक्रमण कर रहे हैं। नरेंद्र मोदी ने अनिल अंबानी की जेब में पैसा डाला है।

‘ राहुल ने सीबीआई निदेशक आलोक वर्मा की बहाली की मांग करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से इस मुद्दे पर माफी मांगने को कहा। दिल्ली में राहुल गांधी के नेतृत्व में सीबीआई के हेडक्वॉर्टर पर प्रदर्शन के अलावा उत्तर प्रदेश, महाराष्ट्र, कर्नाटक, हरियाणा समेत अन्य जगहों पर भी सीबीआई दफ्तर के सामने प्रदर्शन किए गए। कांग्रेस के इस प्रदर्शन को विपक्ष का भी साथ मिलता दिखाई दिया। कांग्रेस के अलावा टीएमसी और सीपीआई के नेता भी प्रदर्शन में शामिल हुए।

यदि आप भी पत्रकारिता क्षेत्र में रूचि रखते है, तो जुड़िए हमारे मीडिया इंस्टीट्यूट से :-