अमर भारती : हीरे व जेवरात व्यापार में मंदी के बावजूद सूरत के हीरा कारोबारियों पर इसका असर नहीं पड़ा है। यहां के सबसे बड़ी हीरा कंपनी श्री हरे कृष्णा एक्सपोर्ट के मालिक सावजी ढोलकिया ने गुरुवार को करीब 600 कर्मचारियों को दिवाली बोनस के तौर पर कारें दी हैं।

गुरुवार को पीएम मोदी ने दिल्ली में ‘स्किल इंडिया इंनसेंटिव सेरेमनी’ कार्यक्रम में कंपनी की दो महिला कर्मचारियों को उनके शानदार काम के लिए कंपनी की तरफ से गाड़ी की चाबी थमाई। इन कर्मचारियों में एक 22 साल की महिला दिव्यांग कर्मचारी भी शामिल थी। ढोलकिया ने कहा कि बाकी कर्मचारियों को पीएम ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए संबोधित भी किया।

ढोलकिया ने कहा कि इस साल कुल 1500 कर्मचारियों को दिवाली बोनस देने के लिए चुना गया था। कंपनी ने बाकी बचे 900 कर्मचारियों को फिक्सड डिपॉजिट सर्टिफिकेट दिया है। इस बार कंपनी कर्मचारियों को बोनस देने में करीब 50 करोड़ रुपये खर्च कर रही है।

71 देशों में फैला हीरे का कारोबार

हरे कृष्णा एक्सपोर्ट का दुनिया के 71 देशों में हीरे का कारोबार फैला हुआ है। हरे कृष्णा एक्सपोर्ट ने अपने गोल्डन जुबली अवसर पर कर्मचारियों को बोनस देन के लिए 51 करोड़ रुपए खर्च किए हैं। सावजी ढोलकिया 2011 से ही अपने कर्मचारियों को इसी तरह का खास दिवाली बोनस देते रहे हैं।

पिछले वर्ष कर्मचारियों को दिवाली बोनस में उन्होंने 491 कारें और 200 फ्लैट दिए थे। अपने चाचा से कर्ज लेकर हीरे का कारोबार शुरू करने वाले सावजी ढोलकिया गुजरात के अमरेली जिले के दुधाला गांव के रहने वाले हैं।

यदि आप भी पत्रकारिता क्षेत्र से जुड़ना चाहते है तो, जुड़िए हमारे मीडिया इंस्टीट्यूट से :- 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here