अमर भारती: द्वारका डिस्ट्रिक्ट के डाबरी थाना इलाके में एक महिला की गोली मारकर हत्या के मामले में स्पेशल स्टाफ, साइबर सेल और डाबरी थाने की जॉइंट पुलिस टीम ने 3 युवकों को मुंबई से गिरफ्तार किया है। डीसीपी द्वारका एंटो अलफोंस ने बताया कि गिरफ्तार किए गए युवकों में शहाबुद्दीन उर्फ शाहिद, उमरदीन उर्फ बबलू और लइक अंसारी उर्फ अनवर शामिल है।
तीनों आरोपी अभी महाराष्ट्र में रह रहे थे, जिन्हें डाबरी एसएचओ विजय कुमार, स्पेशल स्टाफ इंचार्ज नवीन कुमार, साइबर सेल इंचार्ज अरविंद कुमार, सब इंस्पेक्टर राजेश, सहायक सब इंस्पेक्टर महेंद्र, हेड कांस्टेबल प्रदीप और कांस्टेबल नागेश की जॉइंट टीम ने मुंबई से गिरफ्तार किया है।
पुलिस के अनुसार इनमें एक युवक फिल्म स्टार सलमान खान और अजय देवगन का ग्रुप बाउंसर भी रह चुका है। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार हत्या की यह वारदात डाबरी थाना इलाके में हुई थी, जिसमें लूटपाट का विरोध करने पर बदमाशों ने महिला को गोली मार दी थी, जबकि उसके पति और बेटे को भी घायल कर दिया था। हालांकि घर में कैश ज्यादा नहीं थे इसलिए कुछ हजार ही बदमाशों के हाथ में लगे थे।
पुलिस ने बताया कि इन तीन युवकों को मुंबई से हायर करके दिल्ली बुलाया गया था और करीब 15 दिन तक डाबरी इलाके में इन्हें रखा गया था और फिर वारदात वाले दिन 5 लोग महिला के घर में पहुंच कर वहां पर लूटपाट की कोशिश करने लगे। जब बदमाशों ने महिला को पिस्टल तानी तो महिला ने पिस्टल पकड़ लिया था और उसी के विरोध में बदमाशों ने महिला को गोली मार दी थी।
पूछताछ में पुलिस को पता चला कि इस हत्याकांड का मास्टरमाइंड महिला को पहले जानता था बाद में उसकी अनबन हो गई और इसी बीच उसको पता चला की महिला में एक प्लॉट बेचा है और उसके करीब 19 से 20 लाख रुपए महिला के पास आए हैं।
इसी जानकारी पर उसने अपने तीन साथियों को मुंबई से हायर करके दिल्ली बुलाया और उन्हें भरोसा दिया कि लूट की रकम से एक मोटी रकम उन्हें दे दिया जाएगा, लेकिन जब उन्होंने लूट की वारदात को अंजाम दिया तो घर से पैसे नहीं मिले और आपाधापी में महिला को गोली मार दी। इस मामले में डीसीपी एंटो अल्फोंस ने ज्वाइंट टीम बनाई थी। टीम ने टेक्निकल सर्विलांस, सीसीटीवी फ़ुटेज के आधार पर इस मामले में एक-एक करके तीनों लोगों को मुंबई से गिरफ्तार कर लिया, जिसके बाद अभी पूछताछ की जा रही है।