अमर भारती : देश में मॉब लिंचिंग की घटनाएं थमने का नाम नहीं ले रही हैं। अब मणिपुर के पश्चिम जिले इंफाल से मॉब लिंचिंग की दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है। जहां गाड़ियों की चोरी करने के संदेह में भीड़ ने 26 वर्षीय एक व्यक्ति की कथित तौर पर पीट-पीटकर हत्या कर दी। पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि इस मामले में पांच लोगों को गिरफ्तार किया गया है।

इसमें इंडिया रिजर्व बटालियन (आईआरबी) का एक हवलदार भी शामिल है। मृतक की पहचान फारूक अहमद खान के रूप में हुई है। वह मणिपुर के थौबल जिले के लिलोंग हाओरेबी कॉलेज में एमबीए का छात्र था। फारूक अहमद खान पर भीड़ ने उस समय हमला किया, जब वह थौरोइजाम अवांग लेइकई में यात्रा कर रहा था।

फारूक अहमद खान पर भीड़ ने उस समय हमला किया, जब वह थौरोइजाम अवांग लेइकई में यात्रा कर रहा था। भीड़ ने सबसे पहले उस कार को आग के हवाले कर दिया, जिसमें फारूक अहमद खान सफर कर रहा था। इस दौरान खान के साथ उसके दो दोस्त भी थे, जो किसी तरह घटनास्थल से जान बचाकर भागे।

स्थानीय लोगों का आरोप है कि इन युवकों को ग्रामीणों ने बाइक चुराते हुए पकड़ा था। यह घटना 13 सितंबर की बताई जा रही है। मणिपुर मानवाधिकार आयोग ने घटना के सिलसिले में मामले का स्वत: संज्ञान लिया और राज्य के पुलिस महानिदेशक को मामले की जांच करने और 22 सितंबर तक रिपोर्ट सौंपने को कहा।

थौरोइजाम गांव के लोगों ने शुक्रवार को पटसोई थाने का शुक्रवार को घेराव किया और गिरफ्तार लोगों को रिहा करने की मांग की। गांव के एक क्लब के प्रवक्ता ने बताया कि भाग गए दो वाहन चोरों को गिरफ्तार करने की जगह पुलिस ने एक दोपहिया वाहन के मालिक समेत पांच लोगों को गिरफ्तार किया है।

अगर आप पत्रकारिता जगत से जुड़ना चाहते हैं तो हमारे मीडिया इंस्टीट्यूट से संपर्क करें

यह भी देखें-