अमर भारती : जहां भाजपा कांग्रेस माल्या पर मच-मच कर रही हैं वहीं राष्ट्रीय जनता दल  के हाथ एक बड़ी कामयाबी हाथ लगी है। खबर आ रही है कि जेल में बंद महाज्ञानी, ध्यानी, गुरुघंटाल, गाय चाराखोर श्री लालू प्रसाद यादव के घर भगवान श्रीकृष्ण और श्री बलदाऊ महाराज ने जन्म लिया है। यूं तो लालू परिवार कामयाबी का दूसरा नाम है। एक से बढ़कर एक लल्लनटॉप कामयाब हैं। तेजू से लेकर तेज तक माल बटोरने और खुल्लमखुल्ला तू-तड़ाक करने के लिए जगत भर में विख्यात हैं।
जेल दर्शन पर गए श्री लालू प्रसाद यादव को पिता तुल्य बताने वाले उनके गुणी पुत्र ने बाकायदा पे्रस कांन्फे्रंस कर अपने ‘कृष्णहोने का ऐलान किया है। कैमरों की चकाचौंध के बीच दो लम्पटों ने जबरदस्त लप्पेबाजी और गप्पेबाजी की नई ऊंचाई छूते हुए कहा कि हम कृष्ण हैं अऊर हमरा भाई बलराम है। हमारे पास सुदर्शन चक्र है जिससे हम विरोधियों का संहार कर देंगे।
जैसे ही तेजू ने अपने कृष्ण होने का रहस्योद्घाटन किया आरजेडी कार्यकर्ता कलयुग के इस नए ‘कृष्ण’  के आगे नतमस्तक हो गए। चढ़ाने लगे फूल माला, राजद प्रवक्ता तो गदगद हो उठे। बोले-अब हमको कोई नहीं हरा सकता। साक्षात भगवान कृष्ण और भैया बलराम यादव जी के घर पधारे हैं। ढोल-नगाड़े बजने लगे। खुशियां मनाने लगे कार्यकर्ता।
तभी एक पत्रकार ने सवाल दागा- ”तेज जी अगर आप कृष्ण हैं तो काहे नहीं लालू यादव को जेलवा से छुरा लाए।
इस पर कृष्ण मतलब तेज यादव तमतमाते हुए बोले- अबे ई देख रहा है सुदर्शन चक्र ! एही से  तुम्हरा गला उरा (उड़ा) देंगे। अभिएन बने  हैं कृष्ण, त कइसे पापा को छुरा (छुड़ा) लें। ज्यादे बोलो मत, नहीं तो जानते हो न!
पत्रकार सकपका उठा, बोला- भगवान कृष्ण ऐसा व्यवहार थोरे ही करते हैं। इस पर बलराम (तेजस्वी) आग बबूला हो उठे- ”बहस करेगा का रे। हम कृष्ण-बलराम हैं तो हैं। तुम काहे नहीं मान रहे हो।
उधर भगवान ‘कृष्ण’ के पैदा होने की खबर दिल्ली तक पहुंची तो भाजपा बेचैन हो उठी। आनन-फानन में केन्द्रीय कार्यकारिणी की बैठक बुलाई गई। गिरिराज सिंह ने सवाल उठाया कि सबसे ज्यादा पूजा-पाठ हम करते हैं फिर भगवान कृष्ण चाराखोर लालू के घर कइसे पैदा हो गए? अश्वनी चौबे भी बुदबुदाए ” हम तो रोज मंदिर जाते थे और भगवान से बतियाते थे। फिर भी चारा चोर के घर पहुंच गए अपने भगवान जी!
चर्चा जोर पकड़ रही थी कि मनोज सिन्हा ने दिमाग लगाया ”असल में माखन चोर  चारा चोर के घर चला गया। शायद यही कनेक्शन रहा होगा।इस हाईटैक बैठक का नतीजा समाचार लिखे जाने तक नहीं निकल सका था। फिलहाल तो बिहार में लालू के घर कृष्ण भगवान हैं क्योंकि वहां नीतीशे कुमार हैं।
Dev@amarbharti.com
 यह भी देखें-

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here