अमर भारती : अमेरिका के शिकागो पहुंचे राष्ट्रीय स्वयं सेवक संग के प्रमुख मोहन भागवत ने विश्व हिंदू सम्मेलन को संबोधित करते हुए स्वामी विवेकानंद के ऐतिहासिक भाषण की 125वीं वर्षगांठ के अवसर पर हिन्दु समुदाय से एकजुट होने की अपील की है। स्वामी विवेकानंद के ऐतिहासिक भाषण की 125वीं वर्षगांठ के इस मौके पर आयोजित विश्व हिंदू सम्मेलन में करीब 2,500 लोग मौजूद थे।

राष्ट्रीय स्वयं सेवक संग के प्रमुख भागवत का कहना है कि हिन्दू हजारों वर्षों से प्रताड़ित हो रहे हैं। वे अपने मूल सिद्धांतों का पालन करना और आध्यात्मिकता को भूल गए हैं। यह सम्मेलन 7-9 सितंबर के बीच रखा गया जिसमें उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू भी मौजूद थे। भागवत ने कहा कि हिन्दू विश्व में आध्यात्मिक गुरु की तरह उभरे है। हिन्दू संस्कृति को याद दिलाते हुए उन्होंने कहा कि हमारे पास ज्ञान और बुद्धि का भंडार है। उन्होंने कहा कि पैसा ही सब कुछ नहीं होता और हमें अपने संस्कार नहीं भूलने चाहिएं। हिन्दुओं समेत वहां मौजूद सभी भारतीयों को अपनी संस्कृति से जुड़े रहने की अपील की गई।

यदि आप मीडिया क्षेत्र से जुड़ना चाहते हैं तो जुड़िए हमारे मीडिया इंस्टीट्यूट से:-

यह भी देखें-

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here