अमर भारती: जम्मू कश्मीर में आए दिन पथराव कि खबर सामने आती रहती है ऐसे में पुलिसवालों ने नई रणनीति का इस्तेमाल करके पत्थरबाजों के बीच अपने लोगों को भेजकर गुनहगारों को पकड़ा है। जुमे की नमाज के बाद भीड़ ने पुलिस और सीआरपीएफ कर्मियों पर पथराव करना शुरू कर दिया लेकिन दूसरी ओर से कोई जवाबी कार्रवाई नहीं की गई। कानून प्रवर्तन एजेंसियों ने ना तो आंसूगैस के गोले दागे और न ही लाठीचार्ज किया, जब 100 से ज्यादा लोग हो गये और दो पुराने पत्थरबार भीड़ की अगुवाई करने लगे तब लोगों को तितर बितर करने के लिए पहला आंसू गैस का गोला दागा गया इस बीच भीड़ में छिपे पुलिसकर्मियों ने इस प्रदर्शन की अगुवाई करने वाले दो पत्थरबाजों को पकड़ कर उन्हें गिरफ्तार कर लिया।

    मनमोहन सिंह ने मोदी सरकार पर बोला हमला

इस रणनीति के कारण पत्थरबाजों के दल में शामिल लोग भौचक्के रह गए और इन लोगों ने तत्काल अपना प्रदर्शन खत्म कर दिया। बता दें कि शुक्रवार को कश्मीर के कई इलाकों में हिंसा की घटनाएं हुईं। जुमे की नमाज के बाद शुक्रवार को हुए इन प्रदर्शनों में 100 से अधिक लोग घायल हुए, जिसके बाद तनाव को देखते हुए कई इलाकों में सुरक्षाबलों की अतिरिक्त तैनाती भी की गई। इसके अलावा कुछ क्षेत्रों में इंटरनेट सेवाओं को भी बैन रखा गया।
यदि आप मीडिया क्षेत्र से जुड़ना चाहते है तो जुड़िए हमारे मीडिया इंस्टीट्यूट से:-

यह भी देखें-