अमर भारती : पश्चिम बंगाल की राजधानी कोलकाता में फ्लाईओवर गिरने से बड़ा हादसा हो गया है। दक्षिण कोलकाता के माझेरहाट फ्लाईओवर का एक हिस्सा टूट गया जिसमें कई लोगों को दबे होने की आशंका जताई जा रही है। बताया जा रहा है कि हादसे में एक की मौत भी हो गई है। राज्य मंत्री फरहद हकीम ने जानकारी देते हुए बताया कि हादसे में फंसे सभी लोगों को सुरक्षित निकाल लिया गया है। दूसरी ओर, मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा कि पहले बचाव कार्य किया जाएगा, बाद में हादसे के कारणों की जांच की जाएगी।

क्षतिग्रस्त पुल के नीचे कई गाड़ियां भी दबी हैं। इस हादसे में दबे लोगों को बचाने का काम तेजी से किया जा रहा है। बता दें कि ये 60 साल पुराना पुल था। इस पुल के नीचे ही रेलवे ट्रैक है। वहीं रेलवे की तरफ से एक आधिकारिक जानकारी सामने आई है जिसमें कहा गया है कि इस हादसे में किसी रेलवे कर्मचारी/यात्रियों के मारे जाने की कोई खबर नहीं है। ये जानकारी पूर्वोत्तर रेलवे अधिकारी रंजन महापात्रा ने दी है। जबकि 5 गाड़ियां और एक मिनि बस इस दुर्घटना के चपेट में आईं हैं।

बता दें कि इस दुर्घटना के चलते कई हवाई यात्राएं भी स्थगित करनी पड़ी हैं। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार, हादसे में कई लोगों के दबे हो सकते हैं। इस हादसे में कई गाड़ियां मलबे के नीचे दबी हो सकती हैं। मलबे से अब तक 3 लोगों को निकाला गया है जिनकी हालत गंभीर बताई जा रही है।

कोलकाता में हाल के समय में पुल टूटने या ढहने की यह तीसरी बड़ी घटना है। माझेरहाट फ्लाईओवर दक्षिण कोलकाता को जोड़ता है।इससे पहले अप्रैल, 2016 में कोलकाता में ही निर्माणाधीन पुल गिरने से दो दर्जन से ज्यादा लोगों की मौत हो गई जबकि करीब 100 लोग घायल हुए थे।

वहीं इस घटना पर स्थानीय लोगों के मुताबिक 8-10 लोगों के पुल के नीचे फंसे होने की आशंका है। घटना के बाद मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने आपदा प्रबंधन के साथ बातचीत की है। राहत-बचाव के काम में तेजी की पूरी कोशिश की जा रही है। शुरू में स्थानीय लोग भी इस बचाव कार्य में अपनी भूमिका निभाते दिखे जिसके चलते कुछ जान-माल बचाया गया।

अगर आप में हैं पत्रकारिता में अपनी जगह बनाने का हुनर तो आइये हमारे मीडिया इंस्टीट्यूट में

यह भी देखें-

 

Comments are closed.