अमर भारती : संयुक्त राष्ट्र के पूर्व महासचिव और शांति प्रयासों के लिए नोबेल सम्मान से सम्मानित कोफी अन्नान का 80 साल की उम्र में निधन हो गया। कोफी अन्नान का संक्षिप्त बीमारी के बाद शनिवार को स्विट्जरलैंड में निधन हो गया। कोफी अन्नान के फाउंडेशन ने उनके देहांत की खबर दी। मूल रूप से घाना के रहनेवाले कोफी अन्नान को वैश्विक स्तर पर शांति प्रयासों और गरीबी उन्मूलन कार्यक्रमों के लिए जाना जाता है।  1 जनवरी 1997 से 31 दिसम्बर 2006 तक दो कार्यकालों के लिए अन्ना संयुक्त राष्ट्र के महासचिव रहे। उन्हें संयुक्त राष्ट्र के साथ 2001 में नोबेल शांति पुरस्कार से सम्मानित किया गया था।

फाउंडेशन ने एक बयान में कहा, ‘बड़े दुख के साथ अन्नान परिवार और कोफी अन्नान फाउंडेशन यह घोषणा करते हैं कि संयुक्त राष्ट्र के पूर्व महासचिव और नोबेल पुरस्कार से सम्मानित कोफी अन्नान का बीमारी के बाद शनिवार 18 अगस्त को निधन हो गया है। अन्नान पहले अफ्रीकी मूल के संयुक्त राष्ट्र महासचिव थे। महासचिव रहने के दौरान उन्होंने 2015 तक वैश्विक गरीबी को कम करने का लक्ष्य निर्धारित किया था।

आपको बता दें ‘द एल्डर्स’ के चेयरमैन कोफी अन्नान दिल्ली की आम आदमी पार्टी सरकार के मोहल्ला क्लीनिक योजना की तारीफ कर चुके हैं। उन्होंने दिल्ली सरकार को पत्र लिखकर सूचित किया था कि द एल्डर्स का एक प्रतिनि‌धिमंडल आगामी पांच से आठ सितंबर के बीच दिल्ली का दौरा करेगा। यह प्र‌तिनिधिमंडल दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल के साथ मोहल्ला क्लीनिक के मॉडल की खूबियों को देखेगा। इस प्रति‌निधिमंडल में द एल्डर्स के ‌डिप्टी चेयरमैन ग्रो हारनेन ब्रुटलेंड और संयुक्त राष्ट्र संघ के पूर्व महासचिव बान की मून भी शामिल होंगे।

अगर आप भी पत्रकारिता जगत से जुड़ना चाहते हैं तो हमारे मीडिया इंस्टीट्यूट से संपर्क करें

यह भी देखें – 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here