अमर भारती: तीन देशों की यात्रा पर निकले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का दौरा अब अंतिम पड़ाव पर हैं। गुरुवार को प्रधानमंत्री ने 10वें ब्रिक्स सम्मेलन में हिस्सा लिया और इसे संबोधित भी किया। सम्मेलन के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग और रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के साथ द्विपक्षीय बातचीत भी की। प्रधानमंत्री मोदी और चीनी राष्ट्रपति के बीच हुई द्विपक्षीय वार्ता करने के साथ ही राष्ट्रपति शी जिनपिंग के साथ फोटो भी साझा किया। आपको बता दे की कुछ महीने पहले ही पीएम मोदी रूस और चीन की यात्रा पर गए थे। पिछले चार महीने में चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग से तीसरी बार मिले हैं।

विदेश मंत्रालय के अनुसार, दोनों नेताओं ने बॉर्डर की स्थिति पर विस्तृत रूप से बात की और ये तय किया कि दोनों देशों की सेनाओं को सीमा पर शांति बनाने की कोशिश करनी चाहिए। इसके अलावा पीएम ने भारत की ओर से निर्यात का मुद्दा भी उठाया। चीन से भारत काफी मात्रा में आयात करता है लेकिन निर्यात की मात्रा कम है, मोदी सरकार इस अंतर को कम करना चाहती है बता दें आने वाले 1-2 अगस्त को भारत का एक दल इस मसले पर बात करने चीन जाएगा।

शी जिनपिंग से मुलाकात के बाद मोदी और पुतिन की बातचीत हुई। दोनों ने एक-दूसरे को भरोसा दिया, दोनों देश भविष्य में भी साथ मिलकर काम करेंगे।

मुलाकात के दौरान रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने साइबेरिया में शुरू किए गए एक भारतीय के गोल्ड माइनिंग प्रोजेक्ट की सराहना की गई। यह प्रोजेक्ट पब्लिक-प्राइवेट पार्टनरशिप के तहत शुरू किया गया हैं।

आपको बता दें कि इससे पहले गुरुवार सुबह ब्रिक्स देशों की बैठक के दौरान प्रधानमंत्री ने अपना एजेंडा सभी देशों के सामने रखा। बता दें कि दक्षिण अफ्रीका दूसरी बार ब्रिक्स सम्मेलन की मेजबानी कर रहा है। सम्मेलन में वैश्विक मुद्दों, अंतरराष्ट्रीय शांति एवं सुरक्षा, वैश्विक शासन और व्यापार संबंधी मुद्दों समेत कई मामलों पर चर्चा हुई। इस दौरान पीएम ने चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग समेत ब्रिक्स के कई अन्य नेताओं से मुलाकात की। ब्रिक्स समूह में ब्राजील, रूस, भारत, चीन और दक्षिण अफ्रीका शामिल हैं।

अगर आप भी पत्रकारिता में दिलचस्पी रखते है तो आए हमारे मीडिया इंस्ट्टीयूट में

यह भी देखें-

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here