अमर भारती : प्रधानमंत्री की 3 अफ्रीकी देशो के दौरे के चलते PM रवांडा पहुच गए हैं। रवांड़ा पहुचकर उन्होंने वहा के रवेरु गाँव में जाकर वहा के लोगों को 200 गाय तोफहे में दी। पीएम मोदी ने रवांडा सरकार की एक शांतिकर योजना ‘गिरिंका कार्यक्रम’ के तहत ये गाय गिफ्ट की है, जिन्हें उन्होने रवांडा से ही खरीदा है।

रवांडा के राष्ट्रपति पॉल कागामे ने गरीब लोगों की सहायता करते हुए राष्ट्रीय सामाजिक संरक्षण प्रोग्राम की शुरुआत की , जिसके अंदर हर गरीब परिवार को एक गाय दी जाएगी। इसके चलते PM ने रवेरू मॉडल गांव जाकर उन परिवारों को गाय दान में दी की जिन्होंने आज तक इसका फायदा नहीं उठाया था।

बता दें कि इस फैसले के पीछे रवांडा सरकार की तरफ से चलाया जा रहा है एक प्लान है जिसका नाम ‘गिरिंका’ है। इस  मंसूबे के ज़रिए सरकार वहा पर 3.50 लाख गांवों को गाय देगी और फिर उससे होने वाले बछड़ो को लोग अपने पड़ोसियो को देगें। इस योजना का मकसद यह है कि इन गायों के दूध से परिवार के लोग अपने बच्चों का कुपोषण दूर करे सकेंगे। गाय भेंट करते समय पीएम मोदी ने इस योजना के लिए वहां के राष्ट्रपति पॉल कगामे की तारीफ करते हैं कहा कि भारत की जनता भी इस बात को लेकर हैरान है कि यहां इतनी दूर गाय को इतना महत्त्व दिया जाता है और गांवों में आर्थिक तरक्की का एक माध्यम माना जाता है।

भारत की तरह रवांडा में भी गाय को प्यार और सम्मान का प्रतीक माना जाता है. आपको बता दें की रवांडा में एक दूसरे को गाय भेट करना परंपरा हैं। इस प्रोग्राम की शुरुआत 2006 में हुई थी. जिसके बाद से 2016 तक 2 लाख 48 हजार 566 गाय गरीबों को दी जा चुकी हैं। भारत की तरह रवांडा भी कृषि प्रधान देश है और यहां का 80 फीसदी खेती से जुड़ा है। रवांडा के दौरे पर जाने वाले मोदी पहले भारतीय प्रधानमंत्री हैं। साल 2016 में मोजाम्बिक, दक्षिण अफ्रीका, तंजानिया और केन्या की यात्रा के बाद मोदी की यह अफ्रीका की दूसरी यात्रा है।

अगर आप भी पत्रकारिता में दिल्चस्पी रखते है तो आइए हमारे मीडिया इंस्टीट्यूट में

यह भी देखे: