अमर भारती: देश की राजधानी दिल्ली के चांदनी चौक में एक स्कूल में लगभग 59 मासूम बच्चों को तहखाने में 6 घंटे तक बंद करने का मामला सामने आया है। स्कूल ने दरिंदगी की सारी हदें पार करते हुए अपने ही स्कूल की 59 बच्चियों को सिर्फ इसलिए बंधक बना कर रखा क्योंकि इन बच्चियों की फीस जमा नहीं थी। बता दें कि ये घिनौनी हरकत चांदनी चौक के राबिया प्राथमिक स्कूल ने की है। ये मामला तब सामने आया जब छुट्टी के वक्त अभिभावक बच्चियों को लेने स्कूल गए तो पता चला कि बच्चियों को बेसमेंट में बंद कर दिया गया है। अभिभावकों का कहना है टीचर्स से पूछने पर पता चला कि फीस नहीं देने के कारण बच्चियों की अटेंडेंस नहीं लगाई गई है। उन्हें बेसमेंट में रखा गया है। स्कूल की हेड मिस्ट्रेस फराह दीबा खान के कहने पर ऐसा किया गया।

अभिभावकों के मुताबिक, बच्चियां बेसमेंट में जमीन पर बैठी मिलीं। वहां पंखा तक नहीं था। सभी गर्मी और भूख-प्यास से बेहाल थीं। पेरेंट्स ने जब हेड मिस्ट्रेस फराह खान से शिकायत की तो उन्हें स्कूल से बाहर निकालने की धमकी दी। अभिभावकों  का कहना है कि हमने सितंबर तक की फीस जमा करा दी थी। इस मामले के सामने आने के बाद दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने ट्वीट कर लिखा कि, ” इस घटना से मुझे झटका लगा है, जैसे ही मुझे इस बात की जानकारी मिली, मैंने अधिकारियों को कड़ी कार्रवाई करने के आदेश दे दिए है ।” वहीं इस मामले में पुलिस ने आईपीसी की धारा 342 के तहत स्कूल के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर ली गई है। बता दें कि घटना के बाद अभिभावकों ने स्कूल प्रशासन के ऊपर केस कर दिया है और इस मामले में जल्द से जल्द कार्रवाई की अपील की है।

 

ये भी देखें-

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here