अमर भारती : विश्व कप में इंग्लैड ने जबरदस्त शुरूआत करते हुए सोमवार रात ट्यूनिशिया को 2-1 से हराकर हराकर मैच अपने नाम कर लिया। बता दें कि ये दूसरी बार है, जब इंग्लैंड ने अंतर्राष्ट्रीय स्तर के किसी टूर्नामेंट के शुरूआती मैच में ही विपक्षी टीम को धूल चटाई है। इसके पहले इस टीम ने साल 2006 में शुरूआती गेम पर कब्जा किया था। इस मैच को जिताने में टीम के कप्तान हैरी केन ने अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। उन्होंने मैच के 11वें और 90वें मिनट पर दो गोल किए, जवाब में ट्यूनीशिया केवल एक ही गोल कर पाई। टीम के लिए ये गोल फेजानी सासी ने 35वें मिनट पर किया जो कि पेनल्टी के जरिए लिया गया था।

 

बता दें कि ट्यूनीशिया विश्व कप में 40 साल से एक भी मैच नहीं जीत पाया है। इसके पहले 1978 में उसने मैक्सिको को 3-1 से हराया था। गेम में इंग्लैड ने शुरूआत से ही अपने इरादे साफ कर दिए और धमाकेदार आगाज किया और मैच शुरू होने के तीसरे मिनट में ही गोल करने के दो मौके बना लिए। एक के बाद एक हमलों के बीच आखिरकार 11वें मिनट पर इंग्लैंड ने ट्यूनिशिया को पूरी तरह से प्रेशर में डाल दिया। यंग ने स्टोंस की ओर गेंद उछाली जिस पर उन्होंने जबरदस्त प्रहार किया लेकिन केन ने रीबाउंड पर गेंद को गोल पोस्ट के अंदर पहुंचा दिया और इसके बाद फैंस की खुशी का ठिकाना ही नहीं रहा।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here