इस वजह से आखिरी गेेंद पर सिक्स मारकर मैच जिताते हैं MS Dhoni

नई दिल्ली। आईपीएल 2018 में महेंद्र सिंह धोनी का बल्ला जमकर बोल रहा है। अपनी ताबड़तोड़ बल्लेबाजी के दम पर माही ने उन ओलचकों के मुंह बंद कर दिए हैं, जो धोनी के खेल पर सवाल खड़ा कर रहे थे। इस सीजन में माही जिस तरह से बल्लेबाज़ी कर रहे हैं, ऐसा लगता है कि वो पांच साल पीछे चले गए हैं। धोनी का हमेशा से ही एक स्टाइल रहा है और वो है मैच को छक्का लगाकर खत्म करना। ये कहना भी गलत नहीं होगा कि धोनी छक्का लगाकर ही अपनी टीम को जीत दिलाना चाहते हैं।

पंजाब के खिलाफ खेले गए आखिरी लीग मैच में भी धोनी ने मोहित शर्मा की गेंद पर सिक्स लगाकर न सिर्फ चेन्नई को जीत दिलाई बल्कि पंजाब को आईपीएल से बाहर भी कर दिया। धोनी का ये पुराना स्टाइल है, लेकिन अभी तक किसी को भी नहीं पता था कि वो ऐसा क्यों करते हैं, लेकिन अब खुद धोनी ने ही इसका खुलासा कर दिया है।

आखिरी गेंद पर ऐसे छक्का लगाते हैं धोनी
एक रिपोर्ट के मुताबिक धोनी से जब छक्का लगाकर मैच खत्म करने को लेकर सवाल किया गया तो उन्होंने कहा कि, “फील्डिंग टीम की पूरी कोशिश होती है कि ऐसी स्थिति में वो हमें रन न बनाने दें, जब टीम को सबसे ज्यादा जरूरत होती है। उन परिस्थितियों में गेंद को फील्डर्स के ऊपर से मारना ही खेल खत्म करने का सबसे अच्छा विकल्प होता है”।

आईपीएल में माही का शानदार प्रदर्शन
मौजूदा आइपीएल में धोनी का बल्ला खूब रन बरसा रहा है। इस सीजन में लीग मैच में उनका प्रदर्शन शानदार रहा। उन्होंने 14 मैचों में 89.20 की औसत के साथ 446 रन बनाए हैं। इस सीजन में उनके बल्ले से तीन अर्धशतक भी निकले हैं। खास बात ये है कि इन 14 मैचों की 14 पारियों में 9 बार वो नाबाद रहे हैं। पहले क्वालिफायर से पहले मैच तक उनका स्ट्राइक रेट 157.04 रहा है।

चेन्नई की टीम दो साल के निलंबन के बाद इस साल आईपीएल में वापस लौटी और उसने अपने विरोधियों को पस्त करते हुए इस बार भी अंतिम चार में अपनी जगह पक्की कर ली। चेन्नई की टीम हर बार प्लेऑफ में जगह बनाने वाली एकमात्र टीम है। इसके अलावा कोई भी दूसरी टीम ऐसा करने में नाकाम रही है।