हमारी सरकार ने दिया बाबा साहेब को सबसे बड़ा सम्मान: दिनेश शर्मा

लखनऊ। प्रदेश के उप मुख्यमंत्री डाँ दिनेश शर्मा ने सपा- बसपा पर जमकर हमला बोला। उन्होंने कहा कि बाबा साहेब का नाम लेकर राजनीति करने वाले लोग उनके रास्ते पर एक भी कदम नहीं चले और आज हम पर आरोप लगा रहे हैं, यह देश का सबसे बड़ा दुर्भाग्य है। डॉ शर्मा शनिवार को लाल बहादुर शास्त्री भवन के मीडिया सेंटर में पत्रकारों से मुखातिब हो रहे थे। उन्होंने कहा कि समय के बदलाव के साथ भारत में बदलाव आया है। एक वर्ष के भीतर उत्तर प्रदेश में हमारी सरकार ने दलितों-पिछड़ों के साथ संकल्पित होकर कार्य किया।

उन्होंने कहा कि हम जब आंबेडकर की जयंती मना रहे हैं। तब यह कहना जरूरी है कि आंबेडकर का नाम लेने वाले ही आंबेडकर जी को सम्मान नहीं दे पाए। हमने आंबेडकर जी को सम्मान देने का काम किया है। उप मुख्यमंत्री ने सरकार की योजनाओं का जिक्र करते हुए कहा कि स्टार्टअप योजना में भी इस बात का ध्यान रखा गया है कि सभी मुख्यधारा से जोड़ा जा सके। हम सबका साथ सबका विकास के नारे के साथ काम कर रहे हैं। वहीं कुछ लोग आंबेडकर जी की नीति को कमजोर करने का काम कर रहे हैं।

अखिलेश यादव के बयान की राज्यपाल क्यों चुप हैं इसका जवाब देते हुए डाँ शर्मा ने कहा कि इस समय सरकार ख़ुद त्वरित काम कर रही है, इस वजह से अभी राज्यपाल जी को कुछ कहना या लिखना नहीं पड़ रहा।

हमारा प्रयास, एक भी दलित का न हो उत्पीड़न 

डिप्टी सीएम ने कहा कि हमारी नीति बिल्कुल स्पष्ट है। एक भी दलित का उत्पीड़न न हो इसका निर्देश मुख्यमंत्री योगी ने दिया है। इस देश मे सिर्फ बाबा साहब की नीति पर अगर किसी ने काम किया है तो वह सिर्फ बीजेपी ने किया है। राष्ट्रपति अति दलित व प्रधानमंत्री अति पिछड़े से जब तक है तब तक किसी भी दलित या पिछडो पर कोई अन्याय नही हो सकता। वैसे तो राष्ट्रपति व प्रधानमंत्री किसी जाति का नही होता ।

विपक्ष पर साधा निशाना 

डिप्टी सीएम ने सपा मुखिया अखिलेश यादव पर निशाना साधते हुए कहा कि जिन लोगों के समय क्राइम ग्राफ बड़ा था, गायत्री प्रजापति साफ इसका उदाहरण हैं। महिला की शिकायत के बाद भी बिना सुप्रीम कोर्ट के आदेश के फआईआर नहीं लिखी गई थी। लोग अपने उदाहरण भूल जाते हैं। हमारी सरकार ने कभी किसी का पक्ष नहीं लिया है। विधायक कुलदीप सिंह के मामले पर सत्ता पक्ष के विधायक के भाई को भी गिरफ्तार किया गया। एसआईटी की जांच के बाद सीबीआई को तुरंत जाँच सौंपी गयी और विधायक की गिरफ्तारी भी हो गई है। यह सब इसका उदाहरण है की सरकार लगतार काम कर रही है। पिछली सरकार को पहले अपने काम को देखना चाहिए फिर हम पर आरोप लगाएं।