• 1 लाख से 10 लाख रुपये तक जमा राशि पर एयू बैंक ने सालाना 6.50 फीसदी और 10 लाख से 10 करोड़ रुपये की जमा राशि पर 6.75 फीसदी के सालाना ब्याज की पेशकश की
  • प्राइवेट सेक्टर के बड़े और प्रमुख एवं सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों में जमा राशि पर दिया जाने वाला यह सबसे ज्यादा ब्याज हैअपने स्मॉल फाइनेसं बैंक (एसएफबी) समकक्षों की तुलना में ज्यादा प्रतिस्पर्धी बना

जयपुर। एयू स्मॉल फाइनेंस बैंक, फॉर्च्यून इंडिया 500 कंपनी, ने अपने बचत खाता उपभोक्ताओं के लिए ब्याज दरों में बढ़ोतरी की घोषणा की है। इसी के साथ एयू स्मॉल फाइनेंस बैंक प्राइवेट सेक्टर के बड़े और प्रमुख बैंकों एवं सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों की तुलना में ग्राहकों को जमा राशि पर सबसे ज्यादा ब्याज देने वाला बैंक बन बया है। बैंक 1 लाख से 10 लाख रुपये और 10 लाख से 10 करोड़ की जमा राशि पर सबसे ज्यादा ब्याज दे रहा है। यहां तक कि दूसरे स्मॉल फाइनेंस बैंक (एसएफबी) समकक्षों की तुलना में बैंक की दरें काफी प्रतिस्पर्धी हो गई हैं।

बचत खाते के जो उपभोक्ता अपने खाते में प्रतिवर्ष 1 लाख से 10 लाख रुपये तक का औसत बैलेंस रखेंगे। उनके लिए ब्याज दर 50 बेसिस अंक बढ़ाकर 6.50 फीसदी सालाना कर दी गई है। वहीं दूसरी ओर जिन उपभोक्ताओं के बचत खाते में जमा राशि 10 लाख से 10 करोड़ रुपये तक होगी। उनके लिए ब्याज दर में 25 बेसिस अंकों का संशोधन किया गया है। उनके लिए ब्याज दर बढ़कर 6.75 फीसदी हो गई है। यह बदलाव 11 अप्रैल 2018 से प्रभावी होगा।

यह पहल ग्राहक केंद्रीयता पर एयू बैंक के मजबूत फोकस को और सशक्‍त करती है। एयू बैंक की अन्‍य अनूठी पेशकशों शामिल है, में हर महीने ब्‍याज का भुगतान करना, बैंक के विस्तारित कार्य के घंटे और सभी उपभोक्ताओं के लिए डिजिटल बैंकिंग समाधान।

एयू स्मॉल फाइनेंस बैंक के एमडी और सीईओ श्री संजय अग्रवाल ने इस घोषणा पर टिप्‍पणी करते हुये कहा कि “बैंक में लगभग 7800 करोड़ रुपये की जमा राशि में बचत खाते में जमा राशि का अनुपात 23 फीसदी है। हम बैंक में बचत खाते में जमा होने वाली राशि का हिस्सा ज्यादा से ज्यादा बढ़ाना चाहते हैं। इससे हमें बीमा और म्‍यूचुअल फंडों जैसे अन्‍य उत्‍पादों की क्रॉस सेलिंग का भी मौका मिलेगा। इस कदम से नये ग्राहकों को आकर्षित करने के साथ ही साथ फंड्स की समूची लागत को कम करने में मदद मिलेगी।

अधिक से अधिक ग्राहकों तक पहुंचने के लिए, पिछले महीने हमने 71 बैंकिंग कॉरेस्पोंडेंट आउटलेट्स जोड़े जिससे बेहतर वित्‍तीय समावेशन को बढ़ावा मिलेगा। अब एयू स्मॉल फाइनेंस बैंक सभी ग्राहक वर्गों को श्रेणी में सर्वोत्‍तम बैंकिंग सेवाएं प्रदान करने के लिए अपने 500 से अधिक टच प्‍वाइंट नेटवर्क का लाभ उठा रहा है और परिसंपत्ति एवं लाएबिलिटीज की व्‍यापक रेंज की पेशकश कर रहा है। एयू स्मॉल फाइनेंस बैंक का फोकस खुदरा बैंकिंग ग्राहकों पर है।

एयू स्मॉल फाइनेंस बैंक के विषय में:

एयू स्मॉल फाइनेंस बैंक लिमिटेड (एयू बैंक), फॉर्च्‍यून इंडिया 500 कंपनी है। यह एकमात्र शेड्यूल्ड कॉमर्शियल बैंक है जिसका उद्भव जयपुर से हुआ। यह उत्‍तर, पश्चिम और मध्‍य भारत के 11 राज्‍यों में 306 बैंक शाखाओं, 106 एसेट सेंटर्स, 23 कार्यालयों, 291 एटीएम्‍स सहित अपने 500 से अधिक टच प्‍वाइंट में परिचालन करता है। इसके पास 10,000 से अधिक कर्मचारियों की टीम है।

एयू ने वर्ष 1996 में एयू फाइनेंसर्स के तौर पर अपनी यात्रा आरंभ की थी और पिछले दो दशकों से भारतीय रिजर्व बैंक के तत्वधान में, इसने खुदरा केंद्रित, ग्राहक केंद्रित और भरोसेमंद एसेट फाइनेंसिंग एनबीएफसी के तौर पर अथक रूप से काम किया है। इसने अप्रैल 2017 में बैंक बनने से पहले उत्तर, पश्चिम और मध्य भारत के 11 राज्यों में एक मिलियन से अधिक ग्राहकों तक पहुंच बनाई है, जिनके पास या तो बैंकिंग की सुविधा नहीं थी या फिर बैंकिंग की पहुंच काफी कम थी।

एयू बैंक एनएसई और बीएसई दोनों प्रमुख एक्सचेंजों पर सूचीबद्ध है। (बाजार पूंजीकरण 3.0 बिलियन डॉलर) और यह बाजार पूंजीकरण के लिहाज से शीर्ष 15 निजी क्षेत्र के बैंकों में शामिल है। एयू बैंक का आइपीओ 2017 के सबसे सफलतम आइपीओ में एक रहा है; इसे ~54 गुणा अधिक अभिदान मिला और निवेशकों से शानदार प्रतिसाद प्राप्त हुआ। एयू को मोतीलाल ओसवाल, आइएफसी वाशिंगटन (विश्व बैंक समूह के सदस्य), वारबग पिंकस, क्रिस कैपिटल और केदारा कैपिटल जैसे प्रमुख निवेशकों से निवेश प्राप्त हुआ है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here