नई दिल्ली। देश की सबसे बड़ी ऑनलाइन ई-कॉमर्स कंपनी फिल्पकार्ट बिकने वाली है। खबरों के मुताबिक अमेजॉन ने फ्लिपकार्ट के बड़े हिस्से की खरीदारी की संभावना तलाशने के लिहाज से शुरुआती चर्चा की है लेकिन बिजनस न्यूजपेपर मिंट के मुताबिक फ्लिपकार्ट की डील वॉलमार्ट के साथ होने की ज्यादा संभावना है। बता दें कि अभी के समय में भारतीय बाजार में अमेजॉन और फ्लिपकार्ट का इंडियन ऑनलाइन मार्केट पर दबदबा है। जानकारों के मुताबिक हालांकि ऐसी संभावना कम ही है कि फिल्पकार्ट की डील अमेजॉन के साथ हो। लेकिन अगर फिल्पकार्ट की डील अमेजॉन के साथ हो जाती है तो भारत में अमेजॉन का एकछत्र राज हो जाएगा।

मॉर्गन स्टैनली के अनुसार, इंडियन ई-कॉमर्स मार्केट अगले 10 सालों में 200 अरब डॉलर का हो जाएगा। जिस गति से इस बाजार में संभावनाएँ बढ़ रही है, दोनों ही कंपनियां भारत में अपना बिजनेस बढ़ाने की सोच रही है। लिहाजा ऐसा संभावना है कि दोनों ही कंपनियां फिल्पकार्ट के एक बड़े हिस्से को खरीदने के लिए फिल्पकार्ट को रकम ऑफर कर सकती है। लेकिन अभी इस मामले में दोनों कंपनियों में से कोई भी कुछ भी कहने से बच रही है।

वहीं खबर यह भी है कि फिल्पकार्ट में हिस्सेदारी और उसे खरीदने से संबंधित खबर को अमेजॉन ने खारिज कर दिया है। कंपनी के मुताबिक ऐसी किसी भी डील की संभावना नहीं है। दूसरी तरफ इस मामले में फिल्पकार्ट ने भी कुछ भी कहने से मना कर दिया है। हालांकि फ्लिपकार्ट को खरीदने के लिए अमेजॉन का ऑफर और वॉलमार्ट की हिस्सेदारी में दिलचस्पी इस बात को साफ दिखाती है कि दोनों दिग्गजों के मुकाबला जबरदस्त है।

खबरों के मुताबिक इस वक्त फिल्पकार्ट कंपनी की कुल वैल्यू 21 अरब डॉलर है। यदि फिल्पकार्ट की डील वॉलमार्ट के साथ होती है तो फिल्पकार्ट और भी बड़ी कंपनी हो जाएगी। ऐसी भी खबरें हैं कि अमेजॉन ने भारतीय ई-कॉमर्स बाजार में अपने विस्तार के लिए 5 अरब डॉलर निवेश करने की एक रूपरेखा भी तैयार कर ली है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here