नई दिल्ली। सुपरस्टार श्रीदेवी की अंतिम यात्रा सम्मपन्न हो चुकी है। मुंबई के विले पार्ले श्मशान घाट पर पति बोनी कपूर ने उन्हें मुखाग्नि दी। श्रीदेवी का अंतिम संस्कार दोपहर तीन बजे किया जाना था लेकिन लोगों के हुजूम की वजह से देर हो गई। उनके अंतिम यात्रा के दौरान उन्हें श्रद्धांजलि देने के लिए बॉलीवुड कलाकारों के साथ-साथ उनके प्रशंसक और आम-जन भी मौजूद थे। पिछले तीन दिनों से लगातार अपनी प्रिय चहेती अभिनेत्री की आखिरी झलक पाने के लिए फैन्स बेकरार थे। उनकी आंखें नम थीं। श्रीदेवी की आखिरी दर्शन के लिए लोगों की कतार रात से ही लगनी शुरु हो गई थी।

यह श्रीदेवी की आखिरी ख्वाहिश थी कि उन्हें अंतिम विदाई सफेद फूलों के साथ ही दी जाए और यही वजह है कि उनके आखिरी सफ़र के लिए ट्रक को सफेद फूलों से ही सजाया गया था। श्रीदेवी का पार्थिव शरीर गाढ़ी लाल रंग की दक्षिण भारतीय साड़ी में लिपटा हुआ था। श्रीदेवी के पार्थिव शरीर के पास उनके पति बोनी कपूर, अर्जुन कपूर और जाह्नवी खड़े हुए थे। कई बॉलीवुड सेलेब्स इस अंतिम यात्रा में शामिल हुए थे।

श्रीदेवी को सुनहरी लाल रंग की साड़ी पहनाई गई थी। क्‍लब को सफेद फूलों से सजाया गया है क्‍योंकि खबरों की मानें तो श्रीदेवी चाहती थीं कि उनकी अंतिम विदाई सफेद फूलों के साथ हो। उनके अंतिम यात्रा की गाड़ी भी सफेज फूलों से सजाई हुई थी। अभिनेता अमिताभ बच्चन ने अपने ट्वीटर हैंडल पर श्रद्धांजलि देते हुए कहा कि लौट आओ। लौट आओ।

मालूम हो कि, श्रीदेवी के शव को एक विशेष विमान से दुबई से मुंबई ले आया गया, जिसमें बोनी कपूर, संजय कपूर, राहुल रवैल और अर्जुन कपूर भी साथ आए। इस मौके पर बड़ी संख्या में लोगों का हूजूम मौजूद था। सब श्रीदेवी के अंतिम दर्शन के लिए खड़े थे।

दुबई पुलिस ने श्रीदेवी की मौत का केस बंद कर दिया है। केस बंद करने के बाद श्रीदेवी के पार्थिव शरीर को उनके परिवार को सौंपा गया। पुलिस ने पूछताछ के बाद श्रीदेवी के पति बोनी कपूर को क्लीनचीट दे दी है। पुलिस के मुताबिक, इस केस में ऐसा कुछ नहीं है जिस पर संदेह किया जा सके। डेथ सर्टिफिकेट के मुताबिक, श्रीदेवी की मौत दुर्घटनावश डूबने की वजह से हुई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here