लखनऊ। उत्तर प्रदेश में 21 व 22 फरवरी को आयोजित हो रहे इंवेस्टर्स समिट का उद्घाटन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी करेंगे। वहीं राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद समापन समारोह के मुख्य अतिथि होंगे। समापन सत्र में मुख्य वक्ता के रूप में केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली भी मौजूद रहेंगे।

योगी सरकार के प्रवक्ता और स्वास्थ्य मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह ने मंगलवार देर शाम कैबिनेट बैठक के बाद बताया कि इंवेस्टर्स समिट के नीदरलैंड, जापान, चेक रिपब्लिक, फिनलैंड, चेकोस्लोवाकिया व मारीशस सहयोगी देश हैं। उन्होंने बताया कि समिट में मारीशस के मंत्री व थाईलैंड की उप वाणिज्य मंत्री के अलावा हर सहयोगी देश के प्रतिनिधि भी शामिल होंगे।

उन्होंने बताया कि उद्घाटन सत्र के बाद प्रधानमंत्री मोदी इंवेस्टर्स समिट में भाग लेने आये प्रमुख कंपनियों के सीआईओ से भी मुलाकात करेंगे। इस दौरान वह उत्तर प्रदेश में निवेश को बढ़ावा देने के लिए उनसे बातचीत करेंगे।

मंत्री ने बताया कि इंवेस्टर्स समिट में रिलायंस इंडस्ट्री के चेयरमैन मुकेश अंबानी, अडाणी ग्रुप के चेयरमैन गौतम अडाणी, आदित्य बिड़ला ग्रुप के चेयरमैन कुमार मंगलम बिड़ला, टाटा संस के चेयरमैन एन चंद्रशेखरम, जी ग्रुप के चेयरमैन सुभाष चंद्र, जीएमआर ग्रुप के जीएम राव और एलएंडटी के एमडी व सीईओ एसएन सुब्रामण्यन के अलावा कई कंपनियों के मुखिया शामिल होंगे।

उन्होंने बताया कि आज की कैबिनेट बैठक के बाद इंवेस्टर्स समिट का पूरा ब्यौरा मुख्यमंत्री और उनके मंत्रिमंडल के अन्य सदस्यों के सम्मुख प्रस्तुत किया गया। उन्होंने बताया कि इंवेस्टर्स समिट में भाग लेने के लिए अब तक 5000 प्रतिनिधियों ने पंजीकरण कराया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here