नई दिल्ली। भारत ने अंडर 19 का विश्व कप अपने नाम कर लिया है। भारत ने आस्ट्रेलिया को 8 विकेट से हराकर खिताब पर कब्जा किया। मनजोत कालरा के धमाकेदार शतक से अंडर-19 वर्ल्डकप के फाइनल मुकाबले में भारत ने ऑस्ट्रेलिया को 8 विकेट से करारी मात दी। इस जीत के साथ ही भारत लगातार चौथी बार अंडर 19 विश्वकप जीतने वाली टीम बन गई है। इससे पहले भारतीय गेंदबाजों ने बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए आस्ट्रेलियाई बल्लेबाज को 216 रनों पर ही समेट दिया।

आस्ट्रलियाई बल्लेबाज द्वारा दिये गये लक्ष्य का पीछा करते हुए भारतीय बल्लेबाज ने 38.5 ओवर में मात्र दो विकेट खोकर इसे हासिल कर लिया और मैच पर ऐतिहासिक जीत दर्ज की। भारत की ओर से मनजोत ने 102 गेंद में नाबाद 101 रन बनाये जबकि कप्तान पृथ्वी शॉ और टूर्नामेंट में सर्वाधिक रन बनाने वाले शुभमान गिल आज जल्दी आउट हो गए थे। भारत ने चौथा खिताब जीतकर ऑस्ट्रेलिया को पछाड़ा जिसके नाम तीन बार वर्ल्डकप जीतने का रिकॉर्ड है।

इस बार अंडर 19 विश्व कप में भारत को प्रबल दावेदार माना जा रहा था। दूसरी टीमों और भारत के प्रदर्शन में जमीन आसमान का अंतर था। पृथ्वी शॉ (29) और शुभमन गिल (31) के विकेट जल्दी गंवाने के बाद हार्विक देसाई (नाबाद 47) और कालरा ने 86 रन की साझेदारी करके टीम को जीत तक पहुंचाया। दूसरी तरफ जोनाथन मेरलो के 76 रन के बावजूद ऑस्ट्रेलियाई टीम भारतीय स्पिनरों शिवा सिंह और अनुकूल रॉय का सामना नहीं कर सकी और 216 रन पर ही सिमट गई।

एक समय ऐसा था कि आस्ट्रेलिया चार विकेट पर 183 रन पर था और ऐसा लग रहा था कि आस्ट्रेलिया 250 के आंकड़े को पार कर जाएगा। लेकिन बाद में भारतीय स्पीनरों के सामने आस्ट्रलियाई बल्लेबाज टिक नहीं सके और 216 रनों पर ही सिमट गई। जेसन संघा की टीम ने आखिरी छह विकेट 33 रन पर गंवा दिये।

आस्ट्रेलिया ने इससे पहले टॉस जीतकर बल्लेबाजी का फैसला किया लेकिन उसके बल्लेबाज अच्छी शुरूआत को बड़ी पारियों में नहीं बदल सके। मेरलो और परम उप्पल ( 34 ) ने चौथे विकेटके लिये 75 रन की साझेदारी की।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here