गगहा। आज संपूर्ण देश राष्ट्रीय पर्व मना रहा है। 69वें गणतंत्र दिवस के मौके पर प्रत्येक नागरिक अपने आपको भारत के सबसे मजबूत लोकतंत्र का हिस्सा मानते हुए गौरवान्वित महसूस कर रहे हैं। परंतु उत्तर प्रदेश के प्रगतिशील और विकास पुरुष मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के जिले गोरखपुर में उन्हीं के सरकारी महकमे की तरफ से एक ऐसी तस्वीर देखने को मिली जो कहीं न कहीं राष्ट्र को अपमानित करती है। कौड़ीराम चौकी पर आज गणतंत्र दिवस के मौके पर ध्वजारोहण नहीं किया गया।

इस संबंध में जब स्थानीय पत्रकार जानकारी लेने के लिए पहुंचा तो चौकी इंचार्ज वीडियो गेम खेलने में व्यस्त दिखे। इस संबंध में जब उनसे जानकारी ली गई तो उन्होंने कहा हमें कोई सरकारी आदेश नहीं है और ध्वजारोहण थाने पर हो चुका है। जब चौकी इंचार्ज से पूछा गया कि आखिरकार प्रतिवर्ष यहां पर ध्वजारोहण होता है और आपके द्वारा यहां ध्वजारोहण नहीं किया गया है तो उन्होंने हास्यास्पद बयान दिया और कहा यह कोई सरकारी बिल्डिंग नहीं है और हमें कोई आदेश नहीं है।

जब पत्रकारों ने कुछ पूछना चाहा तो कुर्सी छोड़कर अंदर की ओर भागे चौकी इंचार्ज। जहां एक ओर प्रत्येक सरकारी कार्यालय पर ध्वज फहराने का निर्देश है, वहीं कौड़ीराम चौकी पर जिसे 32 गांव की जिम्मेदारी प्राप्त हुई है, पर ध्वज ना फहराना अपने आप में शर्मिंदगी वाली बात है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here