देवरिया। शहर के कोतवाली रोड स्थित नागरी प्रचारिणी सभा में बुधवार 10 जनवरी को विश्व हिन्दी दिवस का आयोजन श्रमजीवी पत्रकार मण्डल अध्यक्ष डॉ सौरभ श्रीवास्तव के नेतृत्व में मानाया गया। मुख्य अतिथि डॉ अशोक वाजपेयी सदस्य विधान परिषद हरदोई रहे। उन्होंने कहा कि हिंदी हमारी मातृभाषा है, इसको हमें हर जगह प्रयोग करना चाहिए, हम हिंदुस्तान के वासी हैं और हिंदी का प्रचार-प्रसार करना हमारा कर्तव्य है।

शिक्षाविद नरेंद्र मणि ने कहा कि लोग अपने बच्चों को इग्लिश मीडियम स्कूल में भेज रहे हैं, जोकि बच्चे इंग्लिश की जानकारी तो ले रहे हैं पर अपनी मातृभाषा भाषा को भूलते जा रहे हैं। हम सभी जानते हैं कि अपने देश के हर सरकारी विभाग में हर कोई काम हिंदी में ही होता है। इस भाषा को अन्य देशों में भी प्रचलित करना चाहिए। ताकि अन्य देश के भी लोग जाने हिंदी क्या होती है।

इस भाषा से मीठी व सभ्यता वाली भाषा अन्य कोई भी भाषा नहीं होती है:

नगरपालिका अध्यक्ष देवरिया अलका सिंह ने हिंदी भाषा को अपने मुख्य भाषा प्रचलन करने के साथ ही कहा कि आप कहीं भी रहें, अपने देश की भाषा को ही बोलें। “हिंदी है हम, वतन है हिंदुस्तान हमारा” कार्यक्रम में डॉ अशोक बाजपेयी व शिक्षाविद डॉ नरेंद्र मणि त्रिपाठी को अंग वस्त्र व प्रतीक चिन्ह देकर नगरी प्रचारणी सभा के अध्यछ सुधाकर मणि व संयोजक डॉ सौरभ श्रीवास्तव ने सम्मानित किया। इस दौरान कार्यक्रम में आये अन्य अतिथियों ने भी अपना विचार व्यक्त किया। कार्यक्रम के दौरान नगरी प्रचारिणी के नए भवन का लोकार्पण किया गया। संचालन इंद्रकुमार दीक्षित व भृगुनाथ बरनवाल ने किया।