विजय त्रिपाठी, लखनऊ। लखनऊ पुलिस की गुण्डई की ऐसी तस्वीर सामने आई जिसे देखने के बाद आज तक जो पुलिस की दबंगई की बातें की जाती थी उसकी हकीकत आप बखूबी ही समझ जाएंगे। लखनऊ पुलिस की गुण्डई की पूरी करतूत साफ-साफ cctv में कैद हुई लेकिन आला अधिकारी अपने विभाग की करतूत पर जाँच का हवाला देकर मामले को टाल रहे हैं। इतना ही नहीं होटल मालिक पर लखनऊ पुलिस द्वारा cctv फुटेज और मामले में समझौता करने का दबाव भी बनाया जा रहा है।

बीती रात लखनऊ पुलिस के 2 सिपाहियों ने आलमबाग के होटल में ऐसी हरकत की है जिससे लखनऊ पुलिस का सिर झुक गया है। लेकिन सिपाहियों की ऐसी हरकत के बावजूद भी आला अधिकारी उन्हें सजा देने की जगह उन्हें बचाने में लगे हैं और जाँच की बात कहकर मामले को टाल रहे हैं। दरसअल कल रात आलमबाग के मेट्रो होटल में सीओ आलमबाग के हमराही और कुछ पुलिसकर्मी होटल में फ्री का कमरा लेने का दबाव बना रहे थे जिसपर होटल के मैनेजर ने कमर खाली न होने की बात कही।

वर्दी के घमंड और शराब के नशे में चूर सिपाहियों को यह बात नागवार गुज़री और वो होटल में रुके अन्य लोगों को जबरन कमरों से निकालने लगे। इतना ही नहीं सिपाहियों ने होटल में रूके लोगों के साथ मारपीट भी की और उसके बाद डायल 100 की गाड़ी बुलाकर मैनेजर को आलमबाग थाने ले गए और वहाँ उसकी जमकर पिटाई भी की। फिलहाल इस पूरे मामले में लखनऊ पुलिस दबंगई की भूमिका निभा रही है और पीड़ितों को डरा-धमकाकर तहरीर वापस लेने का दबाव बना रही है।