नई दिल्ली। देश के प्रसिद्ध फिजियोथेरेपिस्ट डॉ. रिडवाना सनम को भारत अंतर्राष्ट्रीय केंद्र दिल्ली में 10वीं राष्ट्रीय महिला उत्कृष्टता पुरस्कार से सम्मानित किया गया है, जिसने महिलाओं के खिलाफ हिंसा के उन्मूलन के अंतर्राष्ट्रीय दिवस के अवसर पर, इंडो-यूरोपीय चैंबर ऑफ स्मॉल एंड मिडियम एंटरप्राइजेज के साथ और अन्य राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय संगठन हम महिलाओं और उनके कल्याण के लिए प्रतिबद्ध हैं। यह कार्यक्रम योग विद्या जागृति अभियान का एक हिस्सा है। उन्हें सामापा की तरफ से भी उनकी जम्मू-कश्मीर राज्य में स्वास्थ्य के क्षेत्र में उपलब्धियों और महान कार्यों के लिए सम्मानित किया गया है।

डॉ. रिडवाना सनम, एक सफल उद्यमी, स्वास्थ्य सेवा क्षेत्र में एक उदाहरण स्थापित करने वाले व्यक्तित्व हैं। वे बेहतर बेहतर स्वास्थ्य प्राप्त करने में रोगी की सहायता करते हैं। वे गुड़गांव में स्थित फ्रेंचाइज मॉडल केआरवी हेल्थकेयर और फिजियोथेरेपी प्राइवेट लिमिटेड के संस्थापक और प्रबंध निदेशक भी हैं। यह कंपनी रोग से परेशान लोगों को बहुत ही उत्तम क्वालिटी की स्वास्थ्य सेवाएं उपलब्ध करवाती है। डॉ. रिडवाना सनम को पूर्व राष्ट्रपति एपीजे अब्दुल कलाम ने भी रोगियों को उत्कृष्ट और सस्ती फिजियोथेरेपी सेवाएं प्रदान करने के लिए 2013 में सराहना की थी।

बिहार से आया सदी का सबसे बड़ा सहिष्णु बयान! सुनकर दंग रह जाएंगे

डॉ. रिडवाना सनस को राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय पुरस्कारों से भी सम्मानित किया गया है। उन्होंने पीठ दर्द से पीड़ित लोगों और खिलाड़ियों के लिए एल-एस बेल्ट का डिजाइन किया था। यह एर्गोनॉमिक रूप से डिजाइन बेल्ट न केवल राहत देता है बल्कि दर्द के दुबारा आने से भी रोकता है। उन्होंने घुटने के कैप भी तैयार किये थे जो घुटने को डी-लोड करते हैं और तेजी से दर्द में राहत पहुंचाते हैं। यह शल्यचिकित्सा की रोकथाम में भी बहुत मददगार है।  उन्होंने जोड़ों के दर्द से राहत दिलाने के लिए अमेरिका और कनाडा से जापान और एफडीए से अनुमोदित अपकरणों को आयात किया था।

जहां तक इस क्षेत्र में उद्योग का संबंध है फिजियोथेरेपिस्ट के लिए कैरियर की असीम संभावनाएं हैं। इस क्षेत्र में फिजियोथेरेपिस्ट अस्पतालों, नर्सिंग होम, क्लीनिक, अपंगों के लिए पुनर्वास केंद्र, मानसिक रूप से विकलांग और शारीरिक रूप से विकलांग बच्चों, स्वास्थ्य संस्थानों, कॉर्पोरेट और रक्षा चिकित्सा प्रतिष्ठानों में करियर की संभावनाएं हैं। इसमें फिजियोथेरेपिस्ट में निजी प्रैक्टिस के लिए भा जा सकते हैं। जिनके पास प्रयाप्त पूंजी है वो स्वयं खुद का क्लीनिक स्थापित कर सकते हैं। डॉ सनम ने कहा कि हम उद्यमिता के लिए कार्यशालाएं चलाते हैं और महिलाओं के लिए फिजियो एंटरप्रोन्योशिप में वित्तित सहायता भी देते हैं।

बता दें कि डॉ रिडवाना सनम एक अग्रणी उद्यमी हैं और महिला सशक्तिकरण के लिए एक आदर्श हैं। वह महिलाओं के लिए कई कार्यक्रम भी चलाती हैं। सनम अपनी प्रतिभा और योगदान के लिए देश के स्वास्थ्य क्षेत्र में जाने-माने व्यक्तियों में से एक हैं।