लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी अदित्यनाथ ने कहा कि कैराना से जितने लोगों ने पलायन किया था उनमें 90 फीसदी व्यापारी थे। हम उन्हें वापस लेकर आए। अब वह व्यापार कर रहे हैं। हां इस दौरान एक अच्छी बात रही कि अब गुंडा माफिया वहां से पलायन कर गया है। व्यापारी वर्ग को संरक्षण और सुरक्षा देना हमारी प्राथमिकता है ताकि प्रदेश में फिर से व्यापार का माहौल बन सके।

मुख्यमंत्री शुक्रवार को राजधानी स्थित कन्वेंशन सेंटर में व्यापारी सम्मेलन संवाद एवं सम्मान कार्यक्रम में हिस्सा लेने पहुंचे थे। उन्होंने कहा कि व्यापारी किसी के सामने हाथ नहीं फैलाता। उसे बस सही कानून व्यवस्था चाहिए। पिछले 15 सालों में व्यापारियों ने कई जगहों से पलायन किया। हमारी सरकार बनने के 8 महीने के भीतर हमने कानून व्यवस्था को दुरुस्त करने का काम किया। हमारे लिए ये सबसे बड़ी चुनौती थी। मुख्यमंत्री ने कहा कि व्यापारियों के हितों की पार्टी है। पार्टी धर्म मजहब में किसी को बांटने का काम नहीं करती है। उसे तो सिर्फ शांतिपूर्ण माहौल और सरकार की सुविधा चाहिए होती है।

सीएम ने कहा कि हम लोगों ने प्रदेश में माफियाओं को चिन्हित कर उन्हें जेल भेजा है। आज शामली में व्यापारी व्यापार कर रहा है। अपराधी पलायन कर गए। मैंने व्यापारियों के हितों के लिए उपमुख्यमंत्री और और मंत्रियों को लगा रखा है। कहीं भी कोई दिक्कत हो तो उन्हें तत्काल दूर किया जाए। मुख्यमंत्री ने कहा कि नगर निकायों में व्यापारिक गतिविधियां ज्यादा होती हैं। इन क्षेत्रों में भाजपा का बोर्ड गठित होता है तो अच्छा होगा। आज चुनाव प्रचार का अंतिम दिन है। उन्होंने लोगों से भाजपा की मेयर प्रत्याशी संयुक्ता भाटिया सहित पार्षदों को चुनाव में जिताने की अपील की। मुख्यमंत्री ने एक और जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि एक वक्त था जब यूपी अपनी पहचान बचाने के लिए तरस गया था। प्रदेश का पूरी तरह से अपराधीकरण हो गया था।  सरकार बनने के बाद से हम कानून का राज स्थापित करने की कोशिश कर रहे हैं।

उन्होंने कहा कि सपा और बसपा सरकार के दौरान स्ट्रीट लाइटें उखड़कर घर पहुंच जाती थीं। हम स्ट्रीट लाइट को और बेहतर बनाने जा रहे हैं। केंद्र और राज्य सरकार मिलकर शहरों को साफ सुथरा करने का काम भी कर रही है। योगी आदित्यनाथ ने कहा कि हमारी सरकार किसी जाति, धर्म या फिर किसी व्यक्ति विशेष के लिए नहीं है बल्कि सरकार गरीब, शोषित और किसानों के लिए है। जो लोग प्रदेश छोड़ कर चले गए थे वह अब वापस आ रहे हैं। हम लोग युवाओं को लिए पुलिस में भर्ती करने जा रहे हैं। जो भी इसे प्रभावित करने की कोशिश करेगा उसकी संपत्ति जब्त कर ली जाएगी।

योगी आदित्यनाथ ने कहा कि हम नगर निकायों को अधिकाधिक संपन्न और जिम्मेदार बनाना चाहते हैं ताकि विकास कार्यों में कोई बाधा उत्पन्न न हो। 2022 तक यूपी के गांव या शहर कहीं भी कोई भी ऐसा व्यक्ति नहीं होगा जिसके पास अपना घर न हो। हमारी सरकार सभी आशियाना मुहैया कराएगी। उन्होंने कहा कि अब तक 20 लाख लोगों को निःशुल्क विद्युत कनेक्शन दिया गया है। अब एलईडी वाली स्ट्रीट लगायी जायेगी जिससे ऊर्जा की बचत हो सके। कर्मियों का पैसा अब उनके सीधे खाते में आयेगा। मुख्यमंत्री ने कहा आने वाले समय में जो भर्तियां आ रही हैं। उसमें चेहरा देखकर नहीं बल्कि मेरिट देखकर भर्ती होगी। अगर किसी ने गड़बड़ी की तो उसकी संपत्ति जब्त कर ली जायेगी।