फाइल फोटो

इंदौर। डॉक्टरों ने इंदौर के शासकीय महाराजा यशवंतराव चिकित्सालय (एमवायएच) में जटिल सर्जरी किया। सर्जरी के दौरान 25 वर्षीय महिला के पेट से बालों का करीब 1.5 किलोग्राम वजनी गुच्छा निकाला गया। महिला सिर के बालों को चबाकर निगलने की मानसिक विकृति की शिकार थी। डॉक्टर ने उसके पेट से बालों का गुच्छा निकालकर महिला को नई जिंदगी दी।

ऑपरेशन को सफलतापूर्वक अंजाम देने वाले चिकित्सकों के पांच सदस्यीय दल के अगुवा डॉ. आरके माथुर ने बताया कि एमवायएच में कल 20 नवंबर को कोई तीन घंटे चली सर्जरी के जरिये महिला के आमाशय से बालों का गुच्छा निकाला गया। इस गुच्छे को मेडिकल जुबान में “ट्राइकोबेजॉर” कहा जाता है।

उन्होंने बताया कि निकाले गये बाल सिर के बाल थे जिसका वजन 1.5 किलो था। जानकारी के मुताबिक महिला लंबे समय से अपने बालों को चबाकर निगल रही थी। जिस वजह से बाल पेट के गुच्छे के रूप में जमा हो गया। डॉक्टर के मुताबिक, अगर इस गुच्छे को वक्त रहते महिला के पेट से नहीं निकाला जाता, तो मरीज की सेहत को गंभीर खतरा हो सकता था।

प्रमुख सचिव ने बोर्ड परीक्षाओं को लेकर वीडियो कॉन्प्रेंसिंग के माध्यम से दिया निर्देश