लाडनूं। दिनांक 06-11-2017 भगवान महावीर अंतर्राष्ट्रीय शोध केंद्र, जैन विद्या एवं तुलनात्मक धर्म दर्शन विभाग, जैन विश्वभारती संस्थान (मान्य विश्वविद्यालय), लाडनूं के अन्तर्गत विभिन्न शोध परियोजना का आयोजन किया जा रहा है। यह शोध केन्द्र जैन विद्या के वैज्ञानिक अनुसंधान और जैन सिद्धान्तों के व्यापक सामाजिक अनुप्रयोग के क्षेत्र में कार्य करने वाला विश्व एक अद्वितीय शोध केन्द्र है।

जैन विद्या के क्षेत्र में कार्य करने वाले देश-विदेश के शिक्षा संस्थानों, विद्वानों और शोधार्थियों के लिए एक मुख्य केन्द्र (Hub center) है। आचार्य श्री महाप्रज्ञ ने जैन विद्या की विभिन्न विद्या शाखाओं में विशिष्ट विद्वानों के निर्माण हेतु चार विद्यापीठों (Chairs) की स्थापना की है। इन्हीं चार विद्यापीठों (Chairs) के विभिन्न विषयों पर 1 से 10 लाख तक की शोध परियोजनायें आमंत्रित की जा रही हैं। विस्तृत जानकारी के लिए बेवसाइट www.jvbi.ac.in तथा ई-मेल jvbi.bmirc@gmail.com के माध्यम से प्राप्त कर सकते हैं।

इस हेतु सम्माननीय विद्वानों, अध्येताओं एवं जैनदर्शन के विषय-विशेषज्ञों से अनुरोध है कि शोध परियोजना की प्रविष्ठिया प्रोफेसर समणी ऋजुप्रज्ञा, निदेशक – भगवान महावीर अंतर्राष्ट्रीय शोध केंद्र, जैन विश्वभरती संस्थान, लाडनूं 341306 (राजस्थान) मो. 90204408922 के पते पर अंतिम तिथि दिनांक 31.12.2017 तक प्रेषित करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here