लखनऊ। अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम की कार खरीदकर जला देने वाले ऑल इंडिया हिंदू महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष स्वामी चक्रपाणि एक बार फिर सुर्ख़ियों में है। इस बार उन्होंने ऐलान किया था कि भगोड़े आतंकी दाऊद का मुम्बई के भिंड बाजार स्थित होटल रौनक अफरोज (‘दिल्ली जायका’) को खरीदेंगे और उस पर सार्वजनिक शौचालय बनाएंगे। लेकिन इस बयान के कुछ ही घंटो बाद होटल की नीलामी हो गयी और जिसकी वजह से स्वामी चक्रपाणि का यह सपना भी टूट गया।

होटल की नीलामी में शामिल होने वाले ऑल इंडिया हिंदू महासभा के प्रेसिडेंट स्वामी चक्रपाणि महाराज पर सभी की निगाहें थीं। इसके लिए उन्हें मंगलवार को 23 लाख 72 हजार रुपए की जमानत राशि जमा करनी थी। वहीं तय वक्त में एक करोड़ 18 लाख 63 हजार रुपए का पेमेंट करना था लेकिन स्वामी बोली में शामिल नहीं हुए। सैफी बुरहानी अपलिफ्टमेंट ट्रस्ट ने होटल को खरीद लिया है।

आपको बता दें स्वामी चक्रपाणि मंगलवार को लखनऊ में थे। जहां उन्होंने आशीष श्रीवास्तव को अखिल भारत हिंदू महासभा का प्रदेश अध्यक्ष भी नियुक्त किया। एक निजी कार्यक्रम में लखनऊ पहुंचे स्वामी चक्रपाणि ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर भी निशाना साधते हुए कहा कि 2014 के लोकसभा चुनावों में संतो का समर्थन लेने के लिए देश में गौरक्षा, गौहत्या और गाय को राष्ट्रीय पशु घोषित करने के लिए वचन दिया था। उनकी सरकार को केंद्र में तीन साल हो गए हैं, लेकिन इस मामले में कुछ भी नहीं किया गया है। हालाँकि उन्होंने यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ पर भरोसा जताया। लेकिन फिर भी 2019 तक राम मंदिर नहीं बना तो बीजेपी का खुलकर अखिल भारत हिंदू महासभा विरोध करेगा।

पाकिस्तान में मुर्गी से रेप, लड़का गिरफ्तार

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here