इंदौर में 18 नए मामले मिले, अब तक 915 मरीज, कलेक्‍टर ने कहा सख्‍ती आवश्‍यक

इंदौर में कोरोना के 18 नए पॉजिटिव केस मिले हैं। इन्‍हें मिलाकर अब कुल मरीजों की संख्‍या 915 हो गई है। देर रात जारी हेल्थ बुलेटिन के अनुसार अभी तक एक भी मौत की जानकारी नहीं मिली है। अब तक 52 संक्रमितों की मौत हो चुकी है। वहीं सेंट्रल जेल में बंद एक कैदी की कोरोना रिपोर्ट निगेटिव आई है। इससे जेल प्रशासन ने काफी हद तक राहत की सांस ली है।एक कैदी की रिपोर्ट निगेटिव मिलने के बाद अब 50 से अधिक कैदियों की स्‍क्रीनिंग की जा रही है।

कलेक्‍टर मनीष सिंह के अनुसार पहले एक केस पॉजिटिव आने के बाद संदिग्‍धों को अस्‍पताल में भर्ती किया गया है। असरावद खुर्द के होस्‍टल में 250 कमरे हैं उसे अस्‍थायी जेल घोषित कर दिया है। अब एक बैरक के 80 लोगों को वहां भेजा जाएगा। कलेक्‍टर मनीष सिंह ने कहा कि लॉक डाउन के दौरान सख्‍ती आवश्‍यक है। लोगों की सेहत की रक्षा के लिए किसी तरह का समझौता नहीं किया जा सकता है। सख्‍ती से ही हम इस बीमारी को नियंत्रित कर सकेंगे।कलेक्‍टर ने कहा कि हमें भोपाल से 50 डॉक्‍टर और मिले हैं।

उनकी सेवाएं लेंगे। हमारा लक्ष्‍य लोगों को बेहतर उपचार मुहैया करवाना है। हम सर्वे पर भी काफी ध्‍यान दे रहे हैं। लोगों को घर पर रहकर सामान्‍य बीमारी के उपचार के लिए प्रेरित कर रहे हैं।कलेक्‍टर के अनुसार अब निगेटिव रिपोर्ट ज्‍यादा आ रही हैं। हमने पहले भी कहा था कि प्रारंभिक संदिग्‍ध की युद्ध स्‍तर पर सैंपलिंग की गई। हम हर स्थिति के लिए तैयार थे।