रानी लक्ष्मीबाई जयंती पर ‘मिशन साहसी’ आयोजित

अमर भारती सवंाददाता

फरीदाबाद। राजकीय महिला महाविद्यालय सेक्टर-16 में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद ने रानी लक्ष्मीबाई जयंती के अवसर पर मिशन साहसी का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में छात्राओं ने सीखे आत्मरक्षार्थ गुर। अभाविप फरीदाबाद जिला मीडिया संयोजक रवि पांडे ने बताया कि कार्यक्रम की अध्यक्षता कॉलेज प्राचार्य डॉ नरेन्द्र कुमार ने की मुख्य वक्ता पूर्व डीएसओ फरीदाबाद डॉ अनीता मौजूद रहीं। कार्यक्रम से पूर्व दीप प्रज्वलन कर पुष्पांजलि अर्पित की गई। अनिता ने बताया कि बेटियां जब घर से निकलती है तो अंतरिक्ष तक कि यात्रा तय करती है और कल्पना चावला के रूप में दुनिया के समक्ष एक उदाहरण प्रस्तुत करती है। चूल्हा चौका करने वाली बेटियां जब राजनीति में आती है तो देश के प्रथम महिला के रूप में अपना योगदान देती है।
प्राचार्य डॉ नरेन्द्र कुमार ने अपने संबोधन में कहा देश के लिये सर्वस्व न्यौछावर करने वालीं वीरांगना रानी लक्ष्मीबाई जी की जयंती पर उन्हें मेरा नमन। आजादी के लिये संघर्ष, और शौर्य से भरा उनका जीवन हमारे लिये एक आदर्श है। स्वतंत्रता संग्राम में दिया गया उनका बलिदान हमें सदियों तक देश के लिये सेवा की प्रेरणा देता रहेगा। अभाविप जिला संयोजिका गायत्री राठौर बताया कि छात्राओ को ना केवल शारीरिक तौर पर बल्कि मानसिक रूप से भी मज़बूत होना चाहिए। जिसके लिये परिषद पूर्व से ही संकल्पबद्ध है। इसी उद्देश्य को चरितार्थ करते हुए मिशन साहसी का आयोजन किया जा रहा है। नगर मंत्री फरीदाबाद रमन पाराशर ने कहा विद्यार्थी परिषद मिशन साहसी कायक्र्रम के माध्यम से छात्राओं को सेल्फ डिफेंस का गुण सिखाती है तथा छात्राओं को मानसिक शारीरिक तथा आंतरिक रूप से सशक्त बनाने का कार्य कर रही है।
उन्होंने कहा कि नियमित अभ्यास से छात्राओ में आत्मविश्वास बढ़ेगा एवम वे स्वयं आत्मरक्षा कर पाएंगी। प्रशिक्षु मुस्कान और ओमवती रही, विशिष्ट अतिथि प्रोफेसर मोनिका रही इस अवसर पर अंकित, राहुल, चिराग, विशाल, महक, आनंद, दिव्या, ख़ुशी, आरती, समेत अन्य कार्यकर्ता उपस्थित रहे।