मजदूर की मौत से परिजनों में मचा कोहराम

अमर भारती संवाददाता
झिंझाना। मेरठ करनाल हाईवे पर गांव टपराना के नजदीक रेहड़े में सवार होकर शामली मजदूरी पर जा रहे तीन युवक रेहड़ा पलटने से घायल हो गये। मौके पर पहुंची पुलिस ने तीनो घायलों को उपचार हेतु झिंझाना अस्पताल भिजवाया। जहां पर डॉक्टरों ने एक मजदूर को मृत घोषित कर दिया।वहीं दोनों घायलों को हायर सेंटर रेफर कर दिया। पुलिस ने शव का पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया है,वहीं मजदूर की मौत से परिजनों में कोहराम मच गया।
मंगलवार की सुबह झिंझाना के चंदनपुरी निवासी तीन युवक चाहती उर्फ सारिक पुत्र अय्यूब, साजिद पुत्र बशीरा,चांद पुत्र इकबाल, मोटरसाइकिल का रेहडा लेकर शामली मजदूरी के लिए जा रहे थे। जब तीनो मजदूर मेरठ करनाल हाईवे पर टपराना के पास पहुंचे तो रेहडे का पहिया रोड पर पड़े पत्थर पर चढऩे से रेहडा पलट गया। जिसमें तीनो लोग गंभीर घायल हो गए। राहगीरों की सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस ने तीनों को झिंझाना के सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया, जहां पर डाक्टरों ने चाहती उर्फ सारिक उम्र 28 वर्ष को मृत घोषित कर दिया। जबकि साजिद व चांद को हायर सैंटर रेफर कर दिया। पुलिस ने शव का पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा। मृतक की मौत की सूचना पर परिजनों में कोहराम मच गया,वहीं मृतक अपने पीछे एक वर्षीय पुत्र व पत्नी को छोड़ गया।