तमिलनाडु में नीट की तैयारी कर रहे छात्र ने की खुदकुशी

Student commits suicide for fear of not clearing NEET in Tamil Nadu -  तमिलनाडु में नीट पास न कर पाने के डर से छात्र ने की आत्महत्या

नई दिल्ली। हर साल नीट की परीक्षा की तैयारियां कर रहे देश में लगभग 16 लाख छात्र हर साल पेपर देते है। जिनमें 55 हजार से लगभग 60 हजार सीटें ही होती है। बता दें कि यूजी-2021 परीक्षा भारत के 202 शहरों में 3,800 से अधिक परीक्षा केंद्रों पर रविवार को हुई। ऑफलाइन मोड में होने जा रही इन परीक्षाओं का आयोजन नैशनल टेस्टिंग एजेंसी (एनटीए) करती है। तमिलनाडु के सलेम जिले के एक गांव के रहने वाले 19 साल के लड़के ने मेडिकल के लिए नीट परीक्षा से चंद घंटे पहले रविवार को आत्महत्या कर ली। वह तीसरी बार इस परीक्षा में शामिल होने वाला था। पुलिस अधिकारी ने बताया, ‘लड़के की मां ने उसे करीब तीन बजकर करीब 45 मिनट पर घर में फंदे से लटका पाया और इसके बाद परिवार ने पुलिस को सूचना दी।’

तीसरी बार देने वाला था छात्र परीक्षा

पुलिस अधिकारी ने उसके घरवालों से पूछा उन्हें कोई सुसाइड नोट मिला है, पुलिस घरवालो ने कोई स्पष्ट जवाब नहीं दिया। उन्होंने बताया कि लड़का तीसरी बार नीट की परीक्षा देने वाला था, क्योंकि इससे पहले दो बार वह उसमें पास नहीं हो सका था। साथ ही यह भी बताया कि कोझाइयूर गांव के रहने वाले धनुष का शव पोस्टमॉर्टम के बाद परिजन को सौंप दिया गया है।

Leave a Reply