जम्मू कश्मीर में गुलाम नबी आजाद ने अपनी नई पार्टी का किया नामकरण, पार्टी का नाम रखा ‘डेमोक्रेटिक आजाद पार्टी’

काग्रेंस से आज ही के दिन इस्तीफा देने वाले गुलाम नबी आजाद ने आज पूरे एक महीने बाद ही अपनी नई पार्टी के नए नाम की घोषणा कर दी है। जहां पार्टी का नाम ‘डेमोक्रेटिक आजाद पार्टी’ रखा गया जिसके साथ ही आजाद ने अपनी पार्टी के नए झंडे को भी लान्च किया। वहीं झंडे में नीले, सफेद और पीले रंग की पट्टी को शामिल किया गया है। जिसमें सबसे ऊपर की ओर नीले रंग की पट्टी को लगाया गया है तो वहीं दूसरे स्थान पर सफेद रंग की पट्टी को और तीसरे स्थान पर पीले रंग की पट्टी को लगाया गया है।
गौरतलब हो की काग्रेंस पार्टी से इस्तीफा देने के बाद गुलाम नबी आजाद ने कहा था कि मैं अलग से एक नई पार्टी का निर्माण करूंगा। जिसमें खुली स्वतंत्रता वाले लोगों को ही उसमें शामिल किया जाएगा और उसमे सबको बोलने का अधिकार होगा। इतना ही नही आजाद ने ये भी कहा था कि मेरी पार्टी धर्मनिरपेक्ष होगी जिसमें हर धर्म के लोगो को महत्तव दिया जाएगा। मैंने पार्टी बनने से पहले आमजनता से पार्टी का नाम रखने के लिए सुझाव लिया था। जिसमें आम जनता ने बढ़ चढकर भाग लिया था और बहुत सारे नाम सुझाव में दिए थे जिसमें लोगो ने हिंदी, संस्कृत और उर्दू में पार्टी के लिए नाम सुझाए थे लेकिन मैं ऐसा नाम चाहते था जिसमें लोकतंत्र, शांति और आजादी तीनों बातें शामिल हो। आपको बता दें की गुलाम नबी आजाद ने अपनी पार्टी के नए झंड़े के रंगो के महत्तव के बारे में भी बताया जिसमें बताया गया की सबसे ऊपर नीले रंग को स्वतंत्रता, खुले विचार, कल्पना और सागर की गहराई से आकाश तक की ऊंचाई तक को बताता हैं। तो वहीं सफेद रंग शांति और पीला रंग एकता, विविधता और रचनात्नकता को दिखाता है।
वहीं आज प्रेस काफ्रेंस के दौरान आजाद ने अपनी पार्टी का नाम और अपने झंड़े का भी अनावरण किया। इससे पहले भी आपको बता दें कि गुलाम नबी आजाद काग्रेंस के जी-23 नेताओं में से एक थे जिसमें 24 अगस्त को काग्रेंस पार्टी से इस्तीफा दे दिया था। वहीं काग्रेंस पार्टी से आजाद का इस्तीफा देने के बाद जम्मू कश्मीर के नेता फारूत अबदुल्ला ने भी आजाद को अपनी पार्टी में आने का न्योता दिया था जिसे आजाद ने नकार दिया था।

Report By Priyanka