काव्य साहित्य के क्षेत्र में स्व महेंद्र पाल सिंह कांबोज हमेशा किए जाएंगे याद: नरेंद्र

अमर भारती संवाददाता
बेहट। विकास खंड साढौली कदीम के बीएस जू. हाईस्कूल कम्बोहमजरा मे वक्ताओं ने कवि एवं साहित्यकार महेन्द्रपाल सिंह काम्बोज की पुण्य तिथि पर आयोजित कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए कहा कि काव्य एवं साहित्य के क्षेत्र मे स्व. महेन्द्रपाल सिंह काम्बोज हमेशा याद किये जाते रहेगे। उनके सादा जीवन एवं उच्च विचार का जीवनी से हम सबको प्रेरणा लेनी चाहिए। इस अवसर पर उनकी कविताओ का गुणगान भी किया गया। उनके मेरी धरती मेरा अम्बर, धरती बाँचे अम्बर पाती, पर्वो की श्रृंखला, नयी उमंगे नयी तरंगे, वीर शिवा आदि काव्य संग्रहो में राष्ट्र भक्ति एवं सेवा की भावना स्पस्ट झलकती है। वक्ताओं ने कहा कि उनके काव्य, साहित्य, पत्रकारिता एवं समाजसेवा के क्षेत्र मे अमूल्य योगदान के चलते उन्हे अनेक प्रादेशिक एवं राष्ट्रीय पुरस्कारो से सम्मानित किया गया। उन्होने भारतीय राष्ट्रीय स्वयं संघ के अनेक पदो पर लम्बे समय सेवाएं प्रदान कर संघ परिवार को बढावा देने का कार्य किया। इस अवसर पर विद्यालय के प्रधानाचार्य नरेन्द्र काम्बोज, पत्रकार अरविन्द गोयल, अवनीश काम्बोज, अंजू सैनी, काजल पंवार, देव शर्मा, अंजली कश्यप, उर्वशीपाल, प्रिया, दानिश, अनश मलिक, सना सलमानी आदि ने उनकी जीवन शैली पर प्रकाश डालते हुए उन्हे नमन किया।